बिहार के मासूम के लिए फिर से फरिश्ता बने सोनू सूद, बिन आंख वाले गुलशन को बुलाया मुंबई

नवादा. जाने-माने एक्टर सोनू सूद एक बार फिर से बिहार के एक गरीब परिवार के लिये मसीहा और मददगार साबित हो रहे हैं. मामला नवादा से जुड़ा है जहां जन्म से ही आंखों की रोशनी से वंचित बच्चे का इलाज सोनू सूद ने कराने का ऐलान किया है. चहुमुखी के बाद एक बार फिर से एक्टर सोनू नवादा के गुलशन के लिए मसीहा साबित होंगे. एक बार फिर अपनी दरियादिली से उन्होंने सभी का दिल जीत लिया है. सब कुछ ठीक रहा तो जन्म से ही दोनों आंखों से न देखने वाला गुलशन अब दुनिया देख सकेगा.

गुलशन जन्म से ही अपनी दोनों आंखों से नहीं देख सकता है, जिसकी मार्मिक कहानी सोशल मीडिया पर कुछ दिनों पहले ही वायरल हुई थी. इसे देखने के बाद सोनू सूद ने उसके इलाज के लिए ऐलान किया है,. एक्टर ने अपने ट्विटर हैंडल से बच्चे के इलाज की घोषणा की है. मासूम गुलशन की दोनों आंखें जन्‍म से ही बंद हैं. अब इस बच्‍चे के लिए सोनू सूद आशा की नई किरण बने हैं. इलाज के बाद सब कुछ ठीक रहा तो 11 माह का मासूम गुलशन अपनी आंखों से दुनिया को देख सकेगा.

सोनू सूद गुलशन की आंखों का इलाज मुंबई में कराएंगे. सोनू सूद ने गुलशन के पिता राजेश चौहान और मां किरण देवी काे मासूम के साथ मुंबई आने का बुलावा भेज दिया है. अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर अभिनेता सोनू सूद ने लिखा कि “चल बेटा गुलशन ,इलाज़ का समय हो गया ,अब अपनी आंखों से दुनिया देख।”

सोनू सूद के इस ऐलान के बाद पूरे गांव में खुशी का माहौल है. इलाज की बात सुनकर हर कोई खुश है और सोनू सूद को इसके लिए ढेर सारा बधाई दे रहे हैं. गुलशन के माता-पिता बेहद गरीब हैं और अपने बच्चे के इलाज के लिए उनके पास पैसे नहीं हैं, लिहाजा उनके इस ऐलान से वो काफी खुश हैं. इसी तरह सोनू सूद ने जिले के वारसलीगंज के हेमदा की रहने वाली चहुमुखी का भी इलाज कराया था. चहुमुखी को जन्म से 4 पैर और हांथ थे, जिसके कारण वो चल नहीं पाती थी.

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*