Home Cricket टीम इंडिया का ‘कप्तान’ बनने के बाद भी नहीं मिल रहा मौका,...

टीम इंडिया का ‘कप्तान’ बनने के बाद भी नहीं मिल रहा मौका, टेस्ट में बैठा बाहर, वनडे सीरीज में खेलना मुश्किल

59
0
Advertisement

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम को वेस्टइंडीज के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज में जीत के बाद अब वनडे फॉर्मेट में खेलना है. इस दौरे पर टीम इंडिया तीनों ही फॉर्मेट में मेजबान टीम के साथ मुकाबला करेगी. तीन मैचों की वनडे सीरीज से पहले भारत को कुछ दिन का आराम मिला है. इसमें कोच राहुल द्रविड़ और कप्तान रोहित शर्मा प्लेइंग इलेवन को लेकर योजना तैयार करेंगे. टेस्ट मैच में बाहर बैठे कुछ खिलाड़ियों को वनडे में मौका मिलना भी मुश्किल लग रहा है.

वेस्टइंडीज के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला बारिश की वजह से पूरा नहीं खेला जा सका. पांचवें दिन एक भी गेंद नहीं डाली जा सकी और मुकाबला ड्रॉ हो गया. भारत इस मैच को जीतने की कगार पर था लेकिन उसे वेस्टइंडीज के साथ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के अंक बांटने पड़े. टीम इंडिया अब वनडे सीरीज में वर्ल्ड कप की अपनी तैयारी को और पुख्ता करने के इरादे से उतरेगी.

कप्तान का प्लेइंग इलेवन में चुना जाना मुश्किल

चयनकर्ताओं ने आईसीसी वर्ल्ड कप के टाइम पर ही होने वाले एशियन गेम्स के लिए चुनी गई टीम की कप्तानी ऋतुराज गायकवाड को दी है. टीम का कप्तान चुने जाने के बाद उन्होंने काफी खुशी जताई थी लेकिन वेस्टइंडीज में वह एक मौके के इंतजार में हैं. टेस्ट टीम में जगह बनाने के बाद भी वह प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं बना पाए. अब वनडे सीरीज के दौरान भी उनको मौका मिलना मुश्किल है. ऋतुराज गायकवाड़ ने एक वनडे और 9 टी20 मैच खेले हैं. वनडे में 19 रन और टी20 में उन्होंने 135 रन बनाए हैं.

Advertisement

वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम:

रोहित शर्मा (कप्तान), शुभमन गिल, ऋतुराज गायकवाड़, विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, संजू सैमसन (विकेटकीपर), ईशान किशन (विकेटकीपर), हार्दिक पंड्या (उपकप्तान), शार्दुल ठाकुर, रवींद्र जडेजा, अक्षर पटेल, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, जयदेव उनादकट, मोहम्मद सिराज, उमरान मलिक, मुकेश कुमार

भारत वेस्टइंडीज वनडे सीरीज कार्यक्रम

पहला वनडे, 27 जुलाई, बारबाडोस
दूसरा वनडे, 29 जुलाई, बारबाडोस
तीसरा वनडे, 1 अगस्त, त्रिनिदाद

टैग: भारत बनाम वेस्टइंडीज, Ruturaj gaikwad

Source link

Previous articleनगालैंड निकाय चुनाव में 33% महिला आरक्षण लागू न होने पर सुप्रीम कोर्ट हुआ सख्त, केंद्र से कहा- आखिरी मौका दे रहे
Next articleअगर चांद गायब हो जाए तो क्या होगा, ये कितना खतरनाक पृथ्वी के लिए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here