NEET Counselling: नीट काउंसलिंग में शामिल होने वाले उम्मीदवारों के लिए जरूरी खबर, जानें NMC की क्या है प्लानिंग

नीट काउंसलिंग: नीट (NEET) की परीक्षा में शामिल होने वाले उम्मीदवारों के लिए एक जरूरी खबर है. नीट काउंसलिंग को लेकर स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया (Dr Mansukh Mandaviya) ने आज संसद को बताया कि फिलहाल अंडर ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल कोर्सों (Medical Courses) के लिए सेंट्रलाइज काउंसलिंग को कोई प्रस्ताव नहीं है. मंडाविया ने महबूबाबाद निर्वाचन क्षेत्र से सांसद कविता मालोथु के एक सवाल का जवाब देते हुए यह घोषणा की है.

मलोथु ने स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय से पूछा है कि क्या ” नेशनल मेडिकल आयोग (NMC) ने मेडिकल कॉलेजों में UG और PG एडमिशन के लिए एक सेंट्रलाइज काउंसलिंग सिस्टम का प्रस्ताव दिया है” इस पर स्वास्थ्य मंत्री ने जवाब दिया कि “शैक्षणिक वर्ष 2023-24 के लिए अंडर ग्रेजुएट या पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल कोर्सों (Medical Courses) के लिए सेंट्रलाइज काउंसलिंग का कोई प्रस्ताव नहीं है. विभिन्न कोटे के लिए सीटों के आवंटन की मौजूदा योजना में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय (DGHS) की मेडिकल काउंसलिंग कमेटी (MCC) भारत में अंडर ग्रेजुएट (UG/MBBS) और पोस्ट ग्रेजुएट (PC) मेडिकल कोर्सों की सीटों के लिए काउंसलिंग आयोजित करती है. काउंसलिंग प्रक्रिया NEET UG और NEET PG में उम्मीदवारों द्वारा प्राप्त अंकों पर आधारित है. मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, यूजी के लिए काउंसलिंग में 15 प्रतिशत अखिल भारतीय कोटा सीटें होती हैं. इसके साथ ही केंद्रीय संस्थानों/विश्वविद्यालयों, डीम्ड विश्वविद्यालयों की 100 प्रतिशत सीटें, राष्ट्रीय महत्व के सभी संस्थानों (INI) में 100% सीटें शामिल होती है.

इसी तरह NEET PG कोर्सेज के लिए काउंसलिंग में अखिल भारतीय कोटा सीटों की 50 प्रतिशत सीटें, केंद्रीय संस्थानों/विश्वविद्यालयों और डीम्ड विश्वविद्यालयों की 100 प्रतिशत सीटें शामिल हैं. NEET UG और NEET PG मेडिकल कोर्सों में राज्य कोटा सीटों के लिए काउंसलिंग संबंधित राज्य सरकारों द्वारा आयोजित की जाती है.

ये भी पढ़ें…
जारी हुई MPESB ग्रुप 4 की आंसर की, इस Direct Link से करें चेक

टैग: NEET, नीट परीक्षा, नीट और 2023

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*