आपको भी बरसात में सताने लगता है गठिया दर्द? तो जान लें बीमारी के कारण भी, 5 टिप्स करें फॉलो, जल्द मिलेगा आराम

हाइलाइट्स

बरसात का मौसम आते ही ज्यादातर लोगों में गठिया दर्द की शुरुआत हो जाती है.
क्योंकि मौसम बदलते ही डाइजेस्टिव सिस्टम के काम करने का तरीका भी बदल जाता है.

गठिया दर्द का इलाज: बरसात का मौसम आते ही गठिया दर्द की शुरुआत हो जाती है. क्योंकि मौसम बदलने के साथ ही हमारा डाइजेस्टिव सिस्टम के काम करने का तरीका भी बदल जाता है. इससे ना केवल डाइजेशन से जुड़ी समस्याएं बढ़ती हैं, बल्कि ठंड बढ़ने के साथ ही जोड़ों में दर्द बढ़ने की शिकायत लोग करने लगते हैं. वैसे तो यह दर्द शरीर के किसी भी जोड़ पर हो सकता है, लेकिन हाथ, घुटने, कूल्हे और रीढ़ की हड्डी में यह अधिक दर्दनाक होता है. गठिया दर्द के कई कारण हैं, जैसे गलत खानपान, आनुवंशिकी, ज्यााद उम्र, चोट, संक्रमण, मोटापा और धूम्रपान आदि शामिल हैं. यदि मानसून में यह दर्द ज्यादा परेशान करें तो 6 उपाय आपको इस दर्द से तुरंत छुटकारा दिला सकते हैं. आइए बलरामपुर चिकित्सालय लखनऊ के डॉ. जितेंद्र शर्मा से जानते हैं गठिया दर्द को कम करने के कुछ कारण-

गठिया दर्द की छुट्टी कर देंगे ये 6 उपाय

नियमित एक्सरसाइज: गठिया जैसे दर्द से निजात पाने के लिए नियमित एक्सरसाइज जरूरी है. इसको रुटीन में करने से बरसात में होने वाले दर्द से राहत मिलती है. इसके अलावा बॉडी फ्लैक्सिबल भी होगी. इसके लिए नमी वाली कंडीशन में वर्कआउट करने से बचें.

मोटापा कम करें: शरीर का बढ़ता कई तरह की मुसीबतें लाता है. इसी में एक बड़ी बला है गठिया दर्द. इससे निजात पाने के लिए जरूरी है कि बढ़ते वजन को कम करना. क्योंकि ज्यादा दबाव पड़ने से यह दर्द अधिक बढ़ सकता है. ऐसे में जरूरी है कि खुद पर कंट्रोल करें.

खान-पान हेल्दी रखें: गठिया दर्द का एक बड़ा कारण गलत खानपान भी है. इसलिए अर्थराइटिस के दर्द से निजात पाने के लिए हेल्दी आहार जरूर लेना चाहिए. इसके लिए बेहतर है कि खाने में फलों, सब्जियों, साबुत अनाज और कम वसा वाले प्रोटीन को जरूर शामिल करें.

शरीर हाइड्रेटेड रखें: पानी पीने से जोड़ों में चिकनाई बनी रहती है और वह कठोर होने से बच जाता है. जिससे अर्थराइटिस यानी गठिया का दर्द कम होता है और उससे काफी हद तक राहत मिल जाती है.

नियमित करें सिंकाई: बरसात के मौसम में गठिया दर्द सबसे अधिक परेशान करता है. इसके इलाज के लिए सबसे बेहतर तरीका है कि गर्म या ठंडी सिंकाई करें. ऐसा करने से आपको काफी हद तक राहत मिल जाएगी. इसके लिए कोल्ड कंप्रेस या आइस पैक का उपयोग भी असरदार माना जाता है.

रोज करें योग: आयुर्वेदाचार्य के मुताबिक, अर्थराइटिस के मरीजों को तनाव लेने से बचना चाहिए. क्योंकि तनाव गठिया के दर्द को बढ़ा सकता है. इसलिए बेहद जरूरी है कि योग, ध्यान या गहरी सांस जैसी तकनीकी का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए. ऐसा करने से गठिया के दर्द से छुटकारा मिल सकता है.

ये भी पढ़ें: Tips and tricks: बरसात के मौसम में बढ़ गई है फिसलन? 5 आसान सुरक्षा उपायों को करें फॉलो, खुद को रख सकेंगे सेफ

ऐसी हो डाइट

  • सुबह हल्का गर्म पानी का सेवन करें.
  • रात में सोने के 3-4 घंटे पहले खाना खाएं.
  • खाना खाने के बाद कुछ समय वॉक करें.

ये भी पढ़ें: क्या आप भी करते हैं नींद में बातें? किस परेशानी का है कारण, इन 3 चीजों से बना लें दूरी, कम हो सकती है दिक्कत

इन घरेलू नुस्खों की लें मदद

  • डाइट में सौंफ, अदरक और हींग जैसी चीजों को शामिल करें.
  • काली मिर्च, तुलसी और मुलेठी की हर्बल चाय का सेवन करें.
  • रेग्यूलर हेल्थ चेकअप और दिन में 10-15 मिनट की धूप जरूरी.

टैग: स्वास्थ्य समाचार, स्वास्थ्य सुझाव, जीवन शैली

(टैग्सटूट्रांसलेट) गठिया का दर्द (टी) गठिया के दर्द से कैसे राहत पाएं (टी) गठिया के दर्द से कैसे छुटकारा पाएं (टी) गठिया के दर्द से राहत पाने का आसान तरीका (टी) गठिया के दर्द का घरेलू इलाज (टी) गठिया का दर्द बढ़ने पर (टी) गठिया के दर्द में क्या करें (टी) बारिश के मौसम में गठिया का दर्द शुरू हो जाता है (टी) गठिया के दर्द से राहत पाने के 5 आसान उपाय (टी) गठिया के दर्द के कारण क्या हैं (टी) गठिया का दर्द क्यों होता है (टी) गठिया के दर्द का कारण क्या है (टी) गठिया के दर्द से राहत पाने के लिए नियमित व्यायाम जरूरी है गठिया के दर्द से छुटकारा(टी)गठिया के दर्द से राहत पाने के लिए गर्म और ठंडी सिंकाई करें(टी)गठिया के दर्द से छुटकारा पाने के लिए योग करना जरूरी है(टी)गठिया के दर्द से राहत पाने के लिए शरीर को हाइड्रेटेड रखें(टी)गठिया के दर्द से राहत पाने के लिए स्वस्थ आहार खाएं(टी)गठिया के दर्द से छुटकारा पाने के लिए मोटापा कम करें(टी)गठिया दर्द(टी)गठिया दर्द से छुटकारा पाएं(टी)गठिया दर्द से राहत पाने का उपाय(टी)गठिया दर्द से राहत पाने का उपाय(टी) गठिया के दर्द का घरेलू इलाज कब होता है?

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*