पूर्व क्रिकेटर ने यशस्वी की पकड़ी सबसे बड़ी कमजोरी, हो जाएं तैयार, नहीं तो गेंदबाज लगाएंगे घात

हाइलाइट्स

पूर्व क्रिकेटर ने यशस्वी की पकड़ी सबसे बड़ी कमजोरी
हो जाएं तैयार, नहीं तो गेंदबाज लगाएंगे घात

नई दिल्ली. भारतीय टीम के युवा बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) ने अपने टेस्ट करियर का आगाज शानदार तरीके से किया है. डेब्यू मुकाबले में उम्दा बल्लेबाजी करते हुए वह शतक जड़ने में कामयाब रहे. इसके अलावा वह अपने दूसरे टेस्ट मैच में भी अच्छे लय में नजर आए. उन्होंने पारी का आगाज करते हुए 74 गेंद में 77.02 की स्ट्राइक रेट से 57 रन का योगदान दिया. 21 वर्षीय युवा बल्लेबाज के इस उम्दा बल्लेबाजी से हर कोई प्रसन्न है और उनकी जमकर सराहना कर रहा है.

आकाश चोपड़ा ने पकड़ी यशस्वी जायसवाल की कमजोरी:

दुसरे टेस्ट मुकाबले में यशस्वी जायसवाल लंच के बाद स्लैश हार्ड करने की कोशिश में होल्डर की गेंद पर डीप गली में मैकेंजी के हाथों लपके गए. आउट होने से पहले उन्हें देखा गया कि वह लगातार बाहर जाती गेंदों पर संघर्ष कर रहे थे. जायसवाल की इसी कमजोरी को चोपड़ा ने भी कैच किया है.

यह भी पढ़ें- हैरी ब्रूक ने रचा इतिहास, 18 टेस्ट पारियों के बाद ENG के लिए सर्वाधिक रन बनाने वाले बने पहले बल्लेबाज, टॉप 12

पूर्व क्रिकेटर ने दुसरे टेस्ट के पहली दिन की समाप्ति के बाद खेल की समीक्षा करते हुए अपने यू-ट्यूब चैनल पर कहा, यह ऐसा पहलू है जो जायसवाल की बल्लेबाजी में चिंता का विषय है.

उन्होंने कहा, फिलहाल वह शानदार बल्लेबाजी कर रहे हैं. उनकी अप्रोच काफी आक्रामक है. उन्होंने प्रत्येक प्रारूप में खुद को समायोजित किया है. लेकिन चिंता का विषय यही है कि बाहर जाती गेंदे उन्हें थोड़ा परेशान कर रही हैं.

चोपड़ा ने आगे सुझाव देते हुए कहा कि यह कोई बड़ी समस्या नहीं है. पहले मैच में शतक और दुसरे मैच में उन्होंने अर्द्धशतक लगाया है. समय दर समय वह भविष्य में मजबूत ही होंगे. लेकिन आगामी मुकाबलों में गेंदबाज अब उन्हें बाहर जाती गेंदों पर ज्यादा परेशान करेंगे. युवा बल्लेबाज को इसके लिए तैयार रहना होगा.

टैग: Akash chopra, भारत बनाम वेस्टइंडीज, टीम इंडिया, यशस्वी जयसवाल

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*