आपके रेलवे स्टेशन के पास कौन सा फेमस शहर या पयर्टक स्‍थल है, आज से बताएगा रेलवे, जानें कैसे ?

हाइलाइट्स

ऑनलाइन टिकट बुक करने वालों को होगा लाभ
पर्यटकों के लिए गाइड की भूमिका निभाएगा रेलवे

नई दिल्‍ली. अगर आप कहीं घूमने का प्‍लान बना रहे हैं और आपको यह पता नहीं है कि आपके गंतव्‍य के पास कौन सा फेमस शहर या पर्यटक स्‍थल है और वहां तक कैसे जाया जाता है, तो अब परेशान होने की जरूरत नहीं है.  रेलवे स्‍वयं  इस तरह की जानकारी देगा. इस संबंध में यात्रियों और पर्यटकों की सुविधा के लिए रेलवे ने बड़ा फैसला लिया है.

रेलवे मंत्रालय के अनुसार ऑनलाइन टिकट बुकिंग करने वाले लोगों के लिए खास सुविधा शुरू करने जा रहा है. छोटे स्टेशनों को लोकप्रिय क्षेत्रों/शहरों के साथ पहचानने की सुविधा के लिए फेमस शहरों को स्टेशन के नाम के साथ जोड़ने की शुरुआत की जा रही है. यह व्‍यवस्‍था आज से शुरू हो जाएगी.

फेमस शहरों के इस तरह बनाए गए क्‍लस्‍टर.

इस सुविधा का लाभ वेबसाइट और मोबाइल ऐप पर टिकट बुकिंग करने पर मिलेगा. इससे यात्रियों के साथ पर्यटकों को भी सुविधा होगी, उन्‍हें स्टेशन खोजना आसान हो जाएगा. अभी 175 फेमस शहरों या क्षेत्रों को 725 रेलवे स्‍टेशनों से जोड़ा जा रहा है. यानी 175 क्‍लस्‍टर में 725 स्‍टेशनों को जोड़ा गया है. टिकट बुक करते समय वेबसाइट के यात्रा प्लानर स्टेशन सर्च में जाकर यह देखा जा सकता है.

इसके साथ, ही सेटेलाइट सिटी को भी रेलवे स्टेशनों से जोड़ा जा रहा है, जैसे नोएडा से नई दिल्ली. कभी-कभी स्थानीय/लोकप्रिय नाम रेलवे स्टेशन के नामों से भिन्न होते हैं, जिससे यात्रा योजना बनाते समय भ्रम की स्थिति पैदा होती है, नई सुविधा से भ्रम की स्थिति भी नहीं रहेगी.

इस तरह होगा यात्रियों को फायदा

. रेल यात्रा प्लानिंग में यात्रियों और पर्यटकों को सुविधा.

.पर्यटकों के लिए स्टेशन खोज आसान.

. साथ ही पर्यटन महत्व के स्थानों या तीर्थस्‍थानों जैसे काशी, खाटू श्याम, बद्रीनाथ, केदारनाथ, वैष्णोदेवी आदि को निकटतम स्टेशन से मैप के माध्‍यम से जोड़ा गया है, जिससे यात्री को बुकिंग करते समय पता चल जाएगा कि गंतव्‍य के करीब कौन सा स्‍टेशन है.

. इससे बेहतर कनेक्टिविटी होगी.

. रेलवे स्टेशनों को जोड़ने के लिए सैटेलाइट सिटी को जोड़ना – जैसे नोएडा से नई दिल्ली.

. क्षेत्रीय महत्व और नागरिकों के लिए गौरव: रेलवे स्टेशन से लोकप्रिय शहर के नाम का जुड़ाव नागरिकों को गर्व और स्वामित्व की भावना देगा.

. नई सुविधा परिचालन कारणों से स्टेशन में बदलाव के मामले में मदद करेगी, उदाहरण के लिए, यदि परिचालन/रखरखाव के कारण एक निर्धारित स्टेशन बदला जाता है. यात्रा प्लानर सर्च में वैकल्पिक स्टेशन दिखाएगा. उदाहरण के लिए, ट्रेन 19031 (अहमदाबाद से जयपुर) को निर्धारित स्टेशन अहमदाबाद के बजाय असारवा से चलाने की योजना है. असारवा को अहमदाबाद इनपुट पर यात्रा प्लानर में दिखाया जाएगा. मौजूदा समय गतिविधि मैन्युअल रूप से की जाती है.

टैग: भारतीय रेल, भारतीय रेलवे समाचार, ट्रेन की टिकट

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*