ना भाई, ना पिता, कोई नहीं बचा पा रहा था लाज, सुपरस्टार ने दीं 10 फ्लॉप फिल्में, 1989 की हिट ने लौटाया स्टारडम

नई दिल्ली. साल 1989 में रिलीज हुई यश चोपड़ा की रोमांटिक फिल्म ‘चांदनी’ ने बॉक्स ऑफिस पर सफलता के झंडे गाड़ दिए थे. फिल्म का लव टायंगल लोग आज भी नहीं भूल पाए हैं. फिल्म में चांदनी का किरदार दिवंगत अभिनेत्री श्रीदेवी ने निभाया था. फिल्‍म में ऋषि कपूर, श्रीदेवी और विनोद खन्ना तीनों के ही किरदारों का काफी पसंद किया गया था. इस फिल्म से पहले ऋषि कपूर 10 फ्लॉप फिल्में दे चुके थे. लेकिन ये फिल्म और इससे मिली सफलता उनके करियर के लिए मील का पत्थर साबित हुई थी.

अस्‍सी के दशक में यश चोपड़ा की फिल्में नाम से ही हिट होने का दम रखती थीं. उन्‍हें ‘स‍िलस‍िला’ जैसी फिल्‍म की अपार सफलता के बाद एक अलग नाम और रूतबा जो मिल गया था. लेकिन एक वक्त ऐसा वक्त भी आया जब अचानक उनकी बैक-टू-बैक फिल्‍में फ्लॉप होने लगी. फिर चादंनी फिल्म ने उन्हें दोबारा वो वक्त दिखाया जब उनकी गिनती टैलेंटेड फिल्ममेकर में होने लगी. फिल्म में बतौर लीड हीरो नजर आ चुके ऋषि कपूर भी खुदगर्ज को छोड़कर इससे पहले लगातार 10 फ्लॉप फिल्में दे चुके थे. लेकिन दोनों के लिए ये फिल्म संजीवनी बूटी साबित हुई थी. दोनों को ही इस फिल्म के बाद नई दिशा मिली थी.

इन 5 सितारों की अधूरी रह गई लव स्टोरी, परवान चढ़ा प्यार, नहीं हो सकी शादी, 1 की तो टूट गई थी सगाई

जब डूबन से बचा था यश चोपड़ा का करियर
80 के दशक के अंत तक आते-आते मशहूर बॉलीवुड प्रोड्यूसर-डायरेक्टर यश चोपड़ा का करियर ग्राफ गिरता ही जा रहा था.वह बहुत बुरे दौर से गुजर रहे थे. वक्त इतना बुरा भी आ गया था कि वह अपना स्टूडियो बेच कर टी-सीरीज के साथ शॉर्ट फिल्म बनाने के बारे में भी सोच चुके थे. उनका प्रोडक्शन हाउस यशराज फ़िल्म्स बंद होने की बात भी सामने आने लगी थी. उस दौर में उनकी ‘वक्त’, ‘मशाल, ‘सिलसिला’, ‘फासले’ और ‘विजय’ जैसी कई बड़ी बजट वाली फिल्में फ्लॉप हो चुकी थी. इसके बाद साल 1989 में रिलीज हुई फिल्म ‘चांदनी’ की अपार सफलता ने ना सिर्फ यश चोपड़ा का करियर बतौर निर्माता निर्देशक डूबने से बजाया था बल्कि ऋषि कपूर को भी इस फिल्म से काफी फायदा हुआ था.

ऋषि कपूर और विनोद खन्ना की संजीवनी बूटी
फिल्म ‘चांदनी’ में जो लव ट्रायंगल दिखाया गया वह लोगों का दिल जीतने में कामयाब रहा था. यश चोपड़ा, ऋषि कपूर, श्रीदेवी और विनोद खन्ना को भी इस फिल्म से बहुत फायदा मिला था. फिल्म की कहानी और गानों ने लोगों को अपना दीवाना बना दिया था. एक वक्त था जब ऋषि कपूर साल 1979 में ‘सरगम’ और 1980 में ‘कर्ज’ में धूम मचा चुके थे और, ‘प्रेम रोग’ के बाद भी ‘कुली’, ‘तवायफ’ और ‘सागर’ जैसी फिल्मों से ऋषि कपूर ने जमाने को अपना दीवाना बनाकर रखा था. लेकिन फिर ‘खुदगर्ज’ के बाद और ‘चांदनी’ से ठीक पहले उन्होंने 10 फ्लॉप फिल्मों की भी लाइन लगा दी थीं. ‘चांदनी’ ने न सिर्फ यश चोपड़ा का करियर बतौर निर्माता निर्देशक डूबने से बचाया बल्कि ऋषि कपूर के करियर को भी नई दिशा मिली थी.

इस फिल्म में श्रीदेवी की खूबसूरती ने लोगों का दिल जीत लिया था.
(फोटो साभार-Instagram@neetu54)

बता दें कि ऋषि कपूर और श्रीदेवी स्टारर फिल्म चांदनी ने बॉक्स ऑफिस पर तहलका मचा दिया था. इस फिल्म की सफलता ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे. इस फिल्‍म ने उस दौर में 27 करोड़ रुपये का बॉक्‍स ऑफिस कलेक्‍शन किया. यानी आज के हिसाब से 250 करोड़ रुपये से भी ज्यादा का कलेक्शन. ‘चांदनी’ यश चोपड़ा के लिए तो वरदान साबित हुई.

टैग: मनोरंजन विशेष, ऋषि कपूर, श्री देवी, विनोद खन्ना

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*