हे भगवान कब होगी बारिश…आसमान की ओर टकटकी लगाए बैठे हैं किसान, क्या उम्मीदों पर फिर जाएगा पानी?

अभिनव कुमार/दरभंगा: बिहार के दरभंगा जिले में अच्छी बारिश होने की उम्मीद में किसान आस लगाए बैठे हैं. एक समय था जब सावन के इस महीने में अगर आप ग्रामीण क्षेत्र में जाते तो सभी खेतों में लोगों की भीड़ दिख जाती थी. सभी लोग अपने खेतों में धान रोपनी में लगे रहते थे. लेकिन बदलते मौसम की बेरुखी और समय पर बारिश ना होने की वजह से इन दिनों किसान काफी चिंता में है. अगर धान की रोपाई अब भी नहीं हुई तो किसानों को काफी नुकसान उठाना होगा.

आसमान की तरफ टकटकी लगाए बैठा किसान इस उम्मीद में है कि कब इंद्र देवता प्रसन्न होंगे और उनकी मजबूरी को देख एक अच्छी बारिश करेंगे. जिससे कि खेतों में धान रोपनी पूरी तरह से हो पाएगी. मानसून की पहली बौछार में कुछ खेतों में धान की रोपनी तो हो सकी लेकिन आधे से ज्यादा खेतों में धान रोपनी होना अभी बाकी है. किसानों को अब यह चिंता भी सताने लगी है कि भादो में अधिक बारिश होने की संभावनाएं होती है. अगर ऐसा हुआ तो फिर इन किसानों को काफी नुकसान हो सकता है.

क्या कहते हैं दरभंगा के किसान ?
ऐसे ही एक किसान बहादुरपुर प्रखंड क्षेत्र के किसान विद्या लाल देव बताते हैं कि हल्की फल्की बारिश हुई है. जो गहरे इलाके हैं उस जगह पर धनरोपणी चल रही है. लेकिन जो ऊंचा क्षेत्र पड़ता है वहां धनरोपनी अभी भी बाकी है. विद्या लालदेव आगे बताते हैं कि उनके गांव के खेतों में लगभग 25 बीघे का रकबा है. उसमें से आधे खेतों में ही धन रोपनी हो सकी है और आधी खेती अभी भी वर्षा के इंतजार में रुके हुई है. जैसे ही एक अच्छी बारिश हो जाती है, तमाम खेतों में धान ही धान नजर आएंगे. लेकिन ऐसा तभी संभव है जब समय पर बारिश हो. बेमौसम वर्षा अगर होती है तो एक तो फसल भी खराब हो जाएगी. वहीं सावन के बाद भादो आता है, जिसमें ज्यादा बारिश होने की उम्मीद होती है. उसमें डर रहता है कि ज्यादा बारिश होने से फसल पानी में डूब जाएगी. अग ऐसा होता है तो किसान को फिर से नुकसान पहुंचेगा.

.

पहले प्रकाशित : 18 जुलाई, 2023, शाम 5:37 बजे IST

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*