जब सोनिया गांधी और ममता बनर्जी का हुआ 2 साल के बाद आमना-सामना, जानें फिर क्या हुआ?

बेंगलुरु: अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में एकजुट होकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का मुकाबला करने की कोशिशों के तहत बेंगलुरु में विपक्षी नेताओं की दूसरी बैठक के पहले दिन सोमवार को कांग्रेस संसदीय दल की अध्यक्ष सोनिया गांधी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का आमना-सामना हुआ. इस मौके पर दोनों नेताओं ने एक-दूसरे के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली और विपक्षी एकता पर रणनीति बनाई.

दोनों नेताओं की दो साल के अंतराल के बाद आमने-सामने की मुलाकात हुई है. इससे पहले ममता बनर्जी ने जुलाई 2021 में सोनिया गांधी से उनके आवास पर मुलाकात की थी. हालांकि, दोनों नेताओं के बीच हमेशा सौहार्दपूर्ण संबंध रहे हैं, लेकिन माना जाता है कि दिल्ली और पश्चिम बंगाल में कांग्रेस नेताओं द्वारा की गई कुछ टिप्पणियों के कारण उनके बीच कुछ मनमुटाव हो गया था.

दिल्ली अध्यादेश मुद्दा: कांग्रेस-AAP में बिगड़ गई थी बात, फिर सीएम नीतीश और ममता बनर्जी ने दोनों को लाया साथ- Inside Story

सूत्रों ने बताया कि बनर्जी विशेष रूप से पश्चिम बंगाल के बेहरामपुर से कांग्रेस के लोकसभा सांसद अधीर रंजन चौधरी की उस टिप्पणी से नाराज थीं, जिसमें उन्होंने उन्हें तानाशाह और उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के कार्यकर्ताओं को गुंडा करार दिया था. सूत्रों ने बताया कि ममता बनर्जी और सोनिया गांधी दोनों शाम करीब छह बजे बैठक स्थल पर पहुंचे और बैठक शुरू होने से पहले करीब आधे घंटे तक एक-दूसरे से बातचीत की.

उन्होंने कहा कि दोनों ने एक-दूसरे के स्वास्थ्य की जानकारी ली. ममता बनर्जी घुटने की सर्जरी से उबर रही हैं, जबकि सोनिया गांधी को भी स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हैं. सूत्रों ने बताया कि करीब डेढ़ घंटे तक चली बैठक के दौरान दोनों नेता एक-दूसरे के बगल में बैठे और उन तरीकों पर चर्चा की जिससे उनकी पार्टियां एक साथ काम कर सकें और केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा का एकजुट होकर मुकाबला कर सकें.

सूत्रों ने बताया कि ममता बनर्जी को सर्जरी की वजह से बैठक के बाद रात्रिभोज में शामिल नहीं होना था. हालांकि, वह विचार-विमर्श के बाद कुछ समय के लिए रुकीं, लेकिन खाना नहीं खाया. ममता बनर्जी के जाने के बाद तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी और राष्ट्रीय प्रवक्ता डेरेक ओ’ब्रायन रात्रिभोज में शामिल हुए. सोनिया गांधी 23 जून को पटना में हुई विपक्ष की पिछली बैठक में शामिल नहीं हुई थीं.

टैग: सीएम ममता बनर्जी, ममता बनर्जी, सोनिया गांधी

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*