गुजरात में मानसून ने बढ़ाई मुसीबत, राजकोट में 6 घंटे के अंदर 9.5 इंच बारिश, IMD ने अगले 4 दिनों के लिए जारी किया अलर्ट

सूरत. गुजरात में इस समय मानसून की भीषण बारिश से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है. यहां दक्षिण गुजरात का इलाका भारी बारिश से सबसे प्रभावित है. कई शहरों में भारी जलभराव की वजह से यातायात बाधित हो गया. सोशल मीडिया पर कई शहरों के वीडियो वायरल हो रहे हैं, जिसमें सड़कों पर खड़ी कारें पानी में पूरी तरह से डूबी हुई दिख रही हैं. वहीं, आईएमडी का पूर्वानुमान है कि अगले चार दिनों तक यहां भारी बारिश जारी रह सकता है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, गुजरात के राजकोट, सूरत, कोडिनार, सूरत सिटी, पाटन-वेरावल, सूत्रपाड़ा और तलाला में मंगलवार को भारी बारिश हुई. यहां राजकोट के धोराजी में 6 घंटे के अंदर 9.5 इंच रिकॉर्ड बारिश रिकॉर्ड की गई. वहीं, सूरत के उधना दरवाजा, उधना गरनाला, उधना चार रास्ता, लिंबायत और धुम्बल सहित कई क्षेत्रों में रिकॉर्ड बारिश दर्ज की गई.

इस दौरान कई जगहों पर जलजमाव की वजह से भीषण ट्रैफिक देखी गई. लिंबायत में निवासियों को घरों में पानी भरने की वजह से काफी कठिनाई का सामना करना पड़ा. वहीं, उधना रेलवे स्टेशन अंडरपास में पानी भर जाने की वजह से यातायात को बंद  करना पड़ा.

ये भी पढ़ें- Mall Road Blast: शिमला में मॉल रोड पर रेस्त्रां में भीषण धमाका, एक शख्स की मौत और 11 घायल, लोगों में फैली दशहत

उकाई बांध का जलस्तर बढ़ा
गुजरात में लगातार चार दिनों से भारी बारिश की वजह से उकाई बांध के जलस्तर में 4 फ़ीट की वृद्धि हुई है. मालूम हो कि इसके जलवृद्धि से तापी नदी प्रभावित होगी. सूरत कॉजवे के जलस्तर में 7 मीटर की वृद्धि हुई है, कॉजवे में पर यातायात को बंद कर दिया गया है. वहीं, गिर सोमनाथ में 3 इंच से अधिक बारिश दर्ज की गई है. धीरे-धीरे करके कई इलाकों में 2.5 से 3 इंच तक बारिश दर्ज की गई. जिसके वजह से कई इलाकों में पानी का जमाव देखा गया.

टैग: Gujarat, Gujarat Rain, मानसून

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*