‘अब अकेले रहकर एन्‍जॉय करने लगा हूं’, विवादों से नाम जुड़ने के बाद बोले पृथ्‍वी शॉ

नई दिल्‍ली. देश के प्रतिभावान बैटरों में शुमार पृथ्‍वी शॉ (Prithvi Shaw) हाल के समय में अपने प्रदर्शन से कहीं अधिक विवादों के कारण चर्चा में रहे हैं. इस वर्ष IPL के ठीक पहले सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर सपना गिल से जुड़े ‘सेल्‍फी विवाद’ ने 23 साल के इस क्रिकेटर की छवि पर विपरीत असर डाला है. वर्ष 2019 में डोप टेस्‍ट में नाकाम रहने के कारण भी उनका नाम सुर्खियों में रहा था.विवादों की इस छाया का असर पृथ्‍वी के प्रदर्शन पर भी पड़ा है. IPL 2023 में दिल्‍ली कैपिटल्‍स की ओर से उनका प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा. यह भी कहा गया कि विवादों से नाता इस प्रतिभावान बैटर के खेल पर भारी पड़ सकता है. बहरहाल, पृथ्‍वी का पूरा ध्‍यान इस समय अपने प्रदर्शन को सुधारने और टीम इंडिया में वापसी पर केंद्रित है.

दलीप ट्रॉफी के फाइनल में उन्‍होंने 65 रनों की छोटी लेकिन प्रभावी पारी खेली. दलीप ट्रॉफी के फाइनल के बाद इस क्रिकेटर ने विज्‍डन इंडिया और क्रिकबज के साथ चर्चा में अपने से जुड़े विवादों, सफलता, नाकामी जैसे मुद्दों पर खुलकर अपना पक्ष रखा.

इन दिनों बाहर निकलना पसंद नहीं करता
पृथ्‍वी ने कहा, ‘लोग मेरे बारे में बहुत सी बातें कहते हैं, लेकिन जो लोग मुझे अच्‍छे से जानते हैं उन्‍हें पता है कि मैं कैसा हूं.मेरे कोई दोस्त नहीं हैं.मुझे दोस्त बनाना पसंद नहीं है.’ उन्‍होंने कहा कि आज की जनरेशन के साथ यही हो रहा है. आप अपने विचार किसी और के साथ साझा नहीं कर सकते. मुंबई के इस युवा बैटर ने कहा, ‘यदि मैं बाहर जाता हूं तो लोग परेशान करते हैं.वे सोशल मीडिया पर कुछ डाल देते हैं,ऐसे में, मैं इन दिनों बाहर निकलना भी पसंद नहीं करता.’

उन्‍होंने कहा, ‘जब भी जाता हूं, कुछ न कुछ होता है, जाना ही बंद किया हूं. यहां तक कि इन दिनों मैं लंच और डिनर के लिए भी अकेला ही जाता हूं. मैंने अकेले रहकर एन्‍जॉय करना शुरू कर दिया है. पहले यदि कोई मुझसे अच्‍छे से बात करता तो मैं भी उससे खुल जाता था. आप हर किसी के लिए अच्‍छे नहीं हो सकते. मैं हर किसी के लिए बुरा भी नहीं बनना चाहता.’

टेस्‍ट की पहली पारी में 6 बैटर 0 पर आउट, फिर भी 365 रन तक पहुंच गई थी टीम

नहीं जानता Bazball के मायने क्‍या हैं?
दलीप ट्रॉफी फाइनल के बाद पृथ्‍वी ब्रिटेन के लिए उड़ान भरेंगे जहां उन्‍हें नार्दम्‍पटनशायर टीम की ओर से खेलना है.उन्‍होंने कहा, ‘मुझे वहां जाकर टीम के लिए रन बनाना है क्‍योंकि वे मुझसे यही उम्‍मीद कर रहे है.’ क्रिकेट खेलने के अपने अंदाज से जुड़े सवाल पर पृथ्‍वी ने कहा, ‘मैं नहीं जानता कि जब वे Bazball कहते हैं तो इसके मायने क्‍या हैं? मेरे खेलने का अंदाज यह है कि यदि मैं बॉल देखता हूं तो मारता हूं. मुझे नहीं पता लोग इसे क्‍या कहते हैं?’

अपने पहले टेस्‍ट में ही शतक बनाकर धमाकेदार डेब्‍यू करने वाले पृथ्‍वी ने कहा, ‘जब मुझे ड्रॉप किया गया (भारतीय टीम से) तो मुझे इसका कारण पता नहीं चला. कोई कह रहा कि यह फिटनेस हो सकताहै लेकिन जब मैं बेंगलुरू आया और नेशनल क्रिकेट अकादमीमें सारे टेस्ट पास किए, रन बनाए और फिर से टी20I टीम में आ गया लेकिन फिर मुझे वेस्‍टइंडीज में मौका नहीं मिला. ‘

टैग: क्रिकेट, पृथ्वी शॉ, टीम इंडिया

(टैग्सटूट्रांसलेट)पृथ्वी शॉ(टी)टीम इंडिया(टी)आईपीएल-2023(टी)क्रिकेट(टी)क्रिकेट न्यूज(टी)पृथ्वी शॉ

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*