‘वे मेरे लिए परिवार की तरह..’: युजवेंद्र चहल ने धोनी, विराट और रोहित के साथ बॉन्डिंग का किया जिक्र

हाइलाइट्स

कहा-सभी सीनियर्स मेरे लिए भाई जैसे, कभी भी बात कर सकता हूं
जितना खुलकर फैमिली से बात नहीं करते, उतना इनके साथ करते हैं

नई दिल्‍ली. युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) ऐसे खिलाड़ी हैं जो मैदान पर हों या इससे बाहर, हमेशा व्‍यस्‍त ही नजर आते हैं. मैदान के बाहर रहते हुए दुबले-पतले युजी को चहल टीवी पर साथी प्‍लेयर का इंटरव्‍यू करते हुए देखा जाता है. कई बार मैदान पर भी चहल टीम इंडिया (Team India) के वरिष्‍ठ सहयोगियों के साथ ‘चुहलबाजी’ करते हुए नजर आ चुके हैं. वनडे और टी20 क्रिकेट में टीम के अहम सदस्‍य बन चुके चहल ने एक इंटरव्‍यू में सीनियर प्‍लेयर्स को ‘बड़े भाई’ की तरह बताते हुए उनके साथ बॉन्डिंग का जिक्र किया है.

रणवीर इलाहाबादिया (Ranveer Allahbadia) के साथ विशेष बातचीत में 32 वर्षीय चहल ने कहा, ‘एमएस धोनी (MS Dhoni), विराट कोहली (Virat Kohli)और रोहित शर्मा (Rohit Sharma), टीम के सभी सीनियर प्‍लेयर्स मेरे लिए भाई जैसे है और वे उन्‍हें कभी भी कॉल कर अपनी समस्‍या पर बात सकते हैं. ‘

VIDEO: ड्वेन ब्रावो ने MLC में बल्ले से मचाया कोहराम, जड़ा टूर्नामेंट का सबसे लंबा सिक्स, फिर भी टीम हारी

वीवीएस लक्ष्मण हो सकते हैं आयरलैंड दौरे पर टीम इंडिया के कोच, वर्ल्ड कप से पहले द्रविड़ को दिया जाएगा ब्रेक!

उन्‍होंने कहा,’सभी प्‍लेयर्स आपस में एक साथ इतना समय गुजारते हैं कि परिवार की तरह बन जाते हैं.  यदि हम एक माह तक साथ रहते हैं तो यह एक परिवार जैसा हो जाता है. कई बार आप अपनी फैमिली के साथ किसी बात पर उतनी खुलकर चर्चा नहीं करते,जितनी अपने साथियों के साथ करते हैं.हम अपने निजी जीवन, भविष्‍य की योजनाओं आदि पर बात करते हैं. कई बार मैं अपनी पत्‍नी से भी कुछ बातों की चर्चा नहीं कर पाता. मैं कोशिश कर रहा हूं लेकिन यह 5 से 10 फीसदी ही हो पाया है.’

महेंद्र सिंह धोनी से जुड़ी एक घटना शेयर करते हुए युजी ने बताया कि टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान ने किस तरह से उन पर विश्‍वास जताया था और ‘ऑफ डे’ पर उन्‍हें सांत्‍वना दी थी. चहल ने कहा, ‘हम सेंचुरियन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 मैच खेल रहे थे. पहली बार मुझे चार ओवर में 64 रन पड़े थे. (हेनरिक) क्‍लासेन मुझे मैदान के चारों तरफ मार रहे थे, ऐसे में उन्‍होंने मुझसे राउंड द विकेट बॉलिंग करने की सलाह दी. मैंने ऐसा किया लेकिन क्‍लासेन ने मुझे छक्‍का मार दिया.जब मैं जा रहा था तो माही भाई मेरे पास आए और कहा-आज तेरा दिन नहीं है, कोई बात नहीं.लेकिन उन्‍होंने मुझसे कहा कि ओवर की तुम्‍हारी जो 5 गेंद शेष हैं, उस पर तुम्‍हें कोई बाउंड्री नहीं देनी चाहिए क्‍योंकि इससे टीम को मदद मिलेगी.इस अनुभव से मुझे अहसास हुआ कि ‘ऑफ डे’ पर भी आप किस तरह से टीम के लिए मददगार साबित हो सकत हैं. ‘

बता दें, चहल टी20 इंटरनेशनल में भारत के लिए सबसे अधिक विकेट लेने वाले बॉलर हैं. इस लेग ब्रेक बॉलर ने 75 मैचों में 24.68के औसत से 91 विकेट लिए हैं, इस दौरान 25 रन देकर छह विकेट उनका सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन रहा है. आईपीएल में सबसे अधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड भी चहल के ही नाम पर हैं, उन्‍होंने 145 मैचों में 21.69 के औसत से 187 विकेट हासिल किए हैं.

टैग: म स धोनी, Rohit sharma, टीम इंडिया, विराट कोहली, Yuzvendra Chahal

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*