सावन में भगवान शिव के प्रिय 5 पौधों का जरूर करें रोपण, दोगुनी गति से होती है ग्रोथ, सेहत के लिए भी फायदेमंद

हाइलाइट्स

सावन का महीना अच्छी बारिस के साथ-साथ हरियाली भी लाने के लिए जाना जाता है.
इस मौसम में पीपल, शमी, केला, चंपा और बेलपत्र के पौधों को जरूर लगाना चाहिए.
ये पौधे भगवान शिव के प्रिय माने जाते हैं, साथ ही सेहत के लिए भी फायदेमंद होते हैं.

मानसून के लिए पौधे: भगवान भोले का सबसे प्रिय महीना सावन की शुरुआत हो चुकी है. इस बार सावन इसलिए भी खास है क्योंकि 19 साल बाद सावन एक नहीं बल्कि दो महीनों का है. लगभग हर छोटे-बड़े मंदिरों में भक्तों का तांता लगा हुआ है. सावन में भक्त अपने भगवान को प्रसन्न करने की पुरजोर कोशिश करते हैं. कुछ लोग भांग धतूरा तो कुछ लोग बेलपत्थर के पत्ते चढ़ाते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि भगवान भोलेनाथ को कुछ पौधों से भी बेहद लगाव है. सावन में इन पौधों को लगाने से भगवान शिव की विशेष कृपा बरसती है. इसके अलावा ये पौधे सेहत के लिए भी फायदेमंद माने जाते हैं.

बता दें कि यह महीना हरियाली के लिए भी जाना जाता है. क्योंकि यही वो महीना होता है, जब धरती हरे रंग का श्रृंगार किए हुए नजर आती है. साल का यह महीना अच्छी बारिस के साथ-साथ हरियाली भी लाता है. साल के अन्य मौसम की तुलना में इस मौसम में पौधों की ग्रोथ अच्छी होती है. ऐसे में कुछ पौधों को घर के पास लगाने से सेहत को फायदा होता है. साथ ही भोलेनाथ की भी कृपा बनी रहती है. आइए जानते हैं ऐसे ही विशेष पौधों के बारे में-

पीपल: भारतीय संस्कृति के अनुसार, पीपल का पौधा बेहद पवित्र माना जाता है. यह पौधा ऑक्सीजन देने के मामले में सबसे अच्छा स्रोत माना जाता है. इसके पत्तों का नियमित सेवन करने से श्वसनली, पित्त और कफ जैसे रोग ठीक हो सकते हैं. इस तरह की परेशानी होने पर आयुर्वेद में इन पत्तों को खाने की सलाह दी जाती है.

शमी: धार्मिक कार्यों के लिए शमी का पौधा सबसे खास माना जाता है. यह पौधा भगवान भोलेनाथ को भी बहुत पसंद होता है. इसके अलावा यह पौधा सेहत के लिए बेहद उपयोगी माना गया है. इस पौधे का उपयोग कीटाणुनाशक औषधि के रूप में किया जाता है. बता दें कि, इसकी पत्तियां एंटीमाइक्रोबियल गुणों से भरी होती हैं, जिससे सेहत दुरुस्त रहती है.

चंपा: चंपा का पौधा औषधीय गुणों से भरपूर होने के साथ-साथ अच्छी खुशबू से भी लबालव होता है. यह भगवान शिव को चढ़ाने का बेहतर ऑप्शन है. इस पौधे में सफेद और पीले मिक्स रंग के फूल आते हैं. बता दें कि, इन पौधों से निकलने वाली खुशबू तनाव आदि को कम करने में बेहद असरदार माने जाते हैं.

ये भी पढ़ें: सावन में झूले का जरूर उठाएं लुत्फ, सेहत को मिलेंगे 5 बड़े लाभ, तनाव से मिलेगा छुटकारा, मांसपेशियां भी होंगी मजबूत

किया: केले का पौधा सावन में जरूर लगाना चाहिए. क्योंकि ऐसा करने से भगवान शंकर तो खुश होते ही हैं. साथ ही इनका सेवन करने से शरीर में ऊर्जा बनी रहती है. इसका सेवन करने से पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है. इसके पत्ते पूजन आदि में भी काम आते हैं.

ये भी पढ़ें: बारिश-बाढ़ से सब्जियां हो गई हैं महंगी? 5 सस्ती बेजिटेबल को डाइट में करें शामिल, पोषक तत्वों की हो जाएगी पूर्ति

बेलपत्र: बेल का पत्थर सबसे पवित्र माना जाता है. इसके पत्ते भगवान भोलेनाथ को बेहद प्रिय हैं. इन बेलपत्तों को चढ़ाने से भगवान भोले नाथ बेहद प्रसन्न होते हैं. इस पौधे की पत्तियां ही नहीं, फल और छाल भी औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं. (नोट-इस खबर में दी गई जानकारियां धार्मिक मान्यताओं और ज्योतिषशास्त्र पर आधारित है. News 18 इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

टैग: स्वास्थ्य, जीवन शैली, आक्षेप

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*