Chandrayaan-3: दुनिया ने मानी भारत की ताकत, NASA, यूरोप, ब्रिटेन ने दी बधाई, चीन ने तारीफ में पढ़े कसीदे

नई दिल्ली. भारत का चंद्रयान-3 (Chandrayaan-3) शुक्रवार को श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर से सफलतापूर्वक लॉन्च हो गया. भारत के चांद पर जाने की इस बड़ी सफलता की पूरी दुनिया तारीफ कर रही है. चंद्रयान-3 करीब 42 दिनों की यात्रा के बाद 23-24 अगस्त को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर लैंड करेगा. इसरो की इस सफल अंतरिक्ष उड़ान पर कई देशों ने भारत को बधाई संदेश भेजे हैं. इन देशों में जापान, ब्रिटेन, यूरोप की अंतरिक्ष एजेंसियों ने भारत को इस सफलता के लिए बधाई दी है. चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने भी भारत के लिए बधाई संदेश जारी किया है.

यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी ने चंद्रयान 3 के प्रक्षेपण के लिए इसरो को बधाई दी. जापान और ब्रिटेन की अंतरिक्ष एजेंसियों ने भी भारत के मून मिशन की तारीफ की. जापान की अंतरिक्ष एजेंसी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से किए गए ट्वीट में लिखा है, ‘भारत को चंद्रयान के सफलतापूर्वक लॉन्च पर बधाई.’ वहीं, ब्रिटेन की अंतरिक्ष एजेंसी यूके स्पेस एजेंसी ने भारत को बधाई देते हुए ट्विटर पर लिखा, ‘मंजिल- चांद… चंद्रयान के सफलतापूर्वक लॉन्च के लिए ISRO को बधाई.’

ब्रिटेन की स्पेस एजेंसी ने इसरो के लॉन्च की तारीफ की

यूके एजेंसी

चंद्रयान 3 पर चीनी अखबार ने क्या कहा?
तकनीक के मामले में चीन को भारत से आगे माना जाता है. इसी के साथ भारत की सफलताओं पर हमेशा तंज कसने वाले चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने अपने एक ट्वीट में चंद्रयान-3 के सफलतापूर्वक लॉन्च होने पर भारत को बधाई दी है. चीन के प्रमुख अखबार ने लिखा है, ‘बधाई हो! भारत ने शुक्रवार को अपने चंद्र मिशन चंद्रयान-3 को ऑर्बिट में सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया है. उम्मीद है कि अंतरिक्ष यान अगस्त में चंद्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग कर लेगा. अगर भारत इस कोशिश में सफल हो जाता है तो वह चंद्रमा पर कंट्रोल्ड लैंडिंग करने वाला विश्व का चौथा देश बन जाएगा.’चंद्रयान3

नासा के प्रमुख ने दी इसरो को बधाई
भारत द्वारा अपने तीसरे चंद्र मिशन, चंद्रयान -3 को लॉन्च करने के साथ, नासा के प्रमुख ने इसरो को बधाई दी. अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी के प्रमुख ने इस मिशन से निकलने वाले वैज्ञानिक निष्कर्षों के लिए प्रत्याशा व्यक्त की और इसके परिणाम में संयुक्त राज्य अमेरिका की रुचि होने की बात कही. नेशनल एयरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) के प्रमुख बिल नेल्सन ने ट्वीट किया, “चंद्रयान-3 के प्रक्षेपण पर भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) को बधाई, चंद्रमा की सुरक्षित यात्रा की कामना करता हूं. हम नासा के लेजर रेट्रोरिफ्लेक्टर ऐरे सहित मिशन से आने वाले वैज्ञानिक परिणामों की प्रतीक्षा कर रहे हैं. भारत आर्टेमिस समझौते पर नेतृत्व का प्रदर्शन कर रहा है.

टैग: चंद्रयान-3, इसरो, अंतरिक्ष विज्ञान

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*