बिहार की राजनीति से बड़ी खबर: इस पार्टी में शामिल हो सकते हैं पूर्व सांसद आनंद मोहन

हाइलाइट्स

पूर्व सांसद आनंद मोहन ने नए राजनीतिक ठिकाने के बारे में संकेत दिए.
आनंद मोहन ने इशारों में बताया कि किस पार्टी में है उनकी दिलचस्पी.
पत्नी और बेटे का हवाला देकर बता दी अपनी पसंद की पार्टी की बात.

कुमार अभिनव सिंह/सहरसा. बिहार के पूर्व सांसद जब से जेल से स्थायी तौर पर रिहा हुए हैं तब से ही उनके किसी न किसी दल में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही हैं. महागठबंधन की सरकार के कार्यकाल में जेल से बाहर आए पूर्व सांसद किस पार्टी को जॉइन करेंगे, इसको लेकर अब तक उन्होंने अपना रुख साफ नहीं किया था. चूंकि महागठबंधन में छह दल शामिल हैं इसलिए इस बात को लेकर भी अटकलबाजियां चल रही हैं कि वे आखिर किस दल में जाना चाहते हैं? लेकिन, अब पूर्व सांसद ने स्वयं इस बात के संकेत दे दिए हैं कि वे आने वाले समय में किस पार्टी के साथ रहना चाहते हैं.

दरअसल, पूर्व सांसद आनंद मोहन का एक बड़ा बयान सामने आया है जिससे उनके लालू प्रसाद यादव के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनता दल में जाने को लेकर खूब चर्चाएं चल रही हैं. इस मामले को लेकर पूर्व सांसद आनंद मोहन ने भी सहरसा में उन्होंने खुद भी अब राजद में जाने का एक इशारा कर दिया है.

इस बात को लेकर मीडिया के द्वारा पूछे गए सवाल पर पूर्व सांसद आनंद मोहन ने कहा कि आरजेडी एक समाजवादी धारा की पार्टी है, इसी पार्टी से उनकी पत्नी पूर्व सांसद लवली आनंद विधानसभा का चुनाव लड़ चुकी हैं. राजद से उनके पुत्र चेतन आनंद शिवहर के विधायक हैं. वे भी हमेशा एक समाजवादी धारा से जुड़े हुए रहे हैं. ऐसे में उन्होंने कहा कि हम उसी धारा के साथ हैं जो समाजवादी धारा से आते हैं. गरीब वंचितों की आवाज को उठाते हैं, हम उन्हीं के साथ हैं.

जाहिर तौर पर पूर्व सांसद आनंद मोहन ने राजद में आने का एक बड़ा संकेत दे दिया है. हालांकि, इसकी पुष्टि अभी उन्होंने खुले तौर पर नहीं की है कि वे राजद में शामिल होंगे. लेकिन, इशारों ही इशारों में उन्होंने एक बड़ा बयान देकर सियासी गलियारों में एक बार फिर चर्चा गर्म कर दी है.

इतना ही नहीं अपने बयान में उन्होंने इशारों ही इशारों में बीजेपी पर भी जमकर निशाना साधा और कहा कि भारत अंबानी और अडानी का होगा तो हम उसके विरोध में हैं. हम उनके साथ हैं जो गांव और गरीब के साथ जो पार्टी है, उसी के साथ हम खड़े हैं. हम हमेशा उसी के साथ फ्री रहेंगे जो समाजवादी विचारधारा से जुड़े हुए हैं, जो गरीब शोषित वंचित हो की आवाज को बुलंद करते हैं.

टैग: बिहार के समाचार, बिहार की राजनीति, पटना न्यूज़ अपडेट

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*