web site hit counter

नई दिल्ली. सुपरटेक (Supertech) के 27 हजार से अधिक फ्लैट खरीददारों (Flat Buyers) के लिए खुशखबरी है. सुपरटेक प्रबंधन और आईआरपी ने दावा किया है कि कंपनी विदेशी निवेश (Foreign Investment) से बचे हुए प्रोजेक्ट को पूरा करेगी. बता दें कि सुपरटेक के चेयरमैन आरके अरोड़ा (RK Arora) की गरिफ्तारी के बाद हजारों फ्लैट खरीददारों की चिंता बढ़ गई थी. कंपनी ने अब दावा किया है कि दो महीने के अंदर ही कंपनी को विदेश से 1600 करोड़ रुपये मिल जाएंगे और इससे अटके पड़े 18 प्रोजेक्ट में घरों के निर्माण का काम पूरा हो जाएगा.

गौरतलब है कि सुपरटेक में विदेशी निवेश को सुप्रीम कोर्ट से हरी झंडी मिलने के बाद कंपनी ने एनसीएएलटी प्लान दिया था. कंपनी ने दावा किया था 18 प्रोजेक्ट के पूरे होने से उन्हें 18 हजार 500 करोड़ मिलेंगे. पिछले दिनों ही सुपरटेक में सिंगापुर की एक कंपनी ने 1600 करोड़ रुपये की निवेश की सहमति दी थी. इस योजना में आर के अरोड़ा ही आईआरपी के साथ मिलकर काम कर रहे थे, लेकिन 27 जून को ईडी ने अरोड़ा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

supertech home buyers, good news, 27 thousand flat buyers, Supertech management, Noida tallest building Supernova,Noida authority, noida builder, supertech builder, supertechnova project, noida Police Station, noida news, rk arora, noida crime, सुपरटेक, 27 हजार होम बायर्स, विदेशी फंड से पूरा होगा फ्लैट, आरके अरोड़ा

ईडी ने कंस्ट्रक्शन कंपनी सुपरटेक के चेयरमैन आरके अरोड़ा को गिरफ्तार कर लिया है. (File)

27 हजार होम बायर्स के लिए खुशखबरी
इस फैसले के बाद सुपरटेक के 27 हजार खरीददारों के चेहरे पर खुशी लौट आई है. नोएडा-ग्रेटर नोएडा में सुपरटेक के ईको विलेज-1,2,3,4, सुपरटेक प्रीकास्ट फैक्टरी, जार सूट ओमिक्रॉन, अपकंट्री, सुपरटेक इको सिटी, एमरोल्ड, रोमानो, कैपटाउन, नार्थ आई, सुपरटेक पवेलियन और शॉप्रिक्स मॉल के प्रोजेक्ट हैं, जिनको पूरा होना बाकी हैं. वहीं, दिल्ली एनसीआर के गुरुग्राम, मेरठ और उत्तराखंड में भी सुपरटेक के कुछ प्रोजेक्ट का काम विदेशी निवेश से पूरा होगा.

ये भी पढ़ें: गेहूं और दाल की कीमतों को लेकर सरकार ने उठाया बड़ा कदम, अब जल्द गिरेंगे दाम

पिछले दिनों ही सुपरटेक के मालिक आरके अरोड़ा को केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी ने गिरफ्तार कर लिया था. आरके अरोड़ा के जेल जाने के बाद यहां पर करोड़ों का फ्लैट लेने वाले लोगों को डर सता रहा था कि उनके फ्लैट की रजिस्ट्री कैसे होगी. बिना फ्लैट की रजिस्ट्री के वह अपने फ्लैट के मालिकाना हक से वंचित रहेंगे. सैकड़ों लोग ऐसे भी हैं जिन्हें सुपरटेक के कई दूसरे प्रोजेक्ट्स में अभी तक फ्लैट नहीं मिला है और कई प्रोजेक्ट तो पूरे भी नहीं हुए हैं, लेकिन अब इन लोगों काफी राहत मिली है.

टैग: दिल्ली-एनसीआर समाचार, ईडी, घर, खुद का घर, सुपरटेक एमराल्ड टॉवर

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *