web site hit counter

हाइलाइट्स

तेलंगाना सरकार 25 अगस्त को सचिवालय परिसर में बने मंदिर-मस्जिद और चर्च का उद्घाटन करेगी.
सचिवालय के निर्माण के दौरान पूजा स्थल क्षतिग्रस्त हो गए थे.

हैदराबाद. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव 25 अगस्त को राज्य की ‘गंगा जमुनी तहजीब’ को दर्शाने के लिए यहां नये सचिवालय परिसर में मंदिर, मस्जिद और गिरजाघर का उद्घाटन करेंगे. ‘गंगा जमुनी तहजीब’ शब्द का तात्पर्य देश में हिंदू मुस्लिम संस्कृतियों के मेल से है. राव ने अगले महीने एक ही दिन राज्य सचिवालय परिसर में बनाए जा रहे नल्ला पोचम्मा मंदिर, एक मस्जिद और एक गिरजाघर का उद्घाटन करने का फैसला किया. एक आधिकारिक विज्ञप्ति में मंगलवार को कहा गया कि धार्मिक प्रमुखों से परामर्श करने के बाद, उन्होंने उस तारीख को अंतिम रूप दिया जो सभी को स्वीकार्य है.

इसमें कहा गया, ‘सभी धर्मों की समानता को जारी रखते हुए और भारतीय संविधान में निहित धर्मनिरपेक्ष भावना को दर्शाते हुए मुख्यमंत्री के. चन्द्रशेखर राव ने तेलंगाना की ‘गंगा जमुनी तहजीब’ के प्रसार की दिशा में एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया.’ विज्ञप्ति में कहा गया, ‘मुख्यमंत्री 25 अगस्त को हिंदू परंपराओं का पालन करते हुए पुजारियों की मौजूदगी में नल्ला पोचम्मा की मूर्ति स्थापित करके मंदिर को फिर से खोलेंगे. उसी दिन मुख्यमंत्री इस्लाम और ईसाई मान्यताओं के अनुरूप मस्जिद और गिरजाघर का भी उद्घाटन करेंगे.’

राव ने मंत्रियों, वरिष्ठ अधिकारियों और तेलंगाना सचिवालय कर्मचारी संघ के कार्यकारी सदस्यों के साथ एक उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की. बता दें कि साल 2020 में जुलाई महीने में पुराने सचिवालय की बिल्डिंग गिराते वक्त वहां पहले से स्थित पूजा स्थल क्षतिग्रस्त हो गए थे. इसके बाद सीएम ने ऐलान किया था कि नए धार्मिक स्थलों का निर्माण कराया जाएगा. जिसके बाद तेलंगाना सरकार ने एक मंदिर, दो मस्जिद और एक चर्च के निर्माण का फैसला किया है.

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा था, ‘750 वर्ग फुट (कुल 1500 वर्ग फीट) में इमाम क्वार्टर सहित सरकार दो मस्जिदों का निर्माण करेगी. नई मस्जिदें उसी स्थान पर बनाई जाएंगी. जहां वे नए सचिवालय में थे. निर्माण के बाद नई मस्जिदें राज्य वक्फ बोर्ड को सौंप दिए जाएंगे.

टैग: तेलंगाना समाचार

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *