web site hit counter

Bengal Panchayat Elections Result 2023: बंगाल में काउंटिंग के बीच बम विस्फोट, BJP बोली- कहां है राहुल गांधी की मोहब्बत की दुकान?

हाइलाइट्स

पश्‍च‍िम बंगाल के 22 जिलों में करीब 339 काउंटिंग सेंटर बनाए गए हैं
कड़े सुरक्षा इंतजाम के साथ करीब 73,887 सीटों पर हुए पंचायत चुनाव की मतगणना जारी
धारा 144 लागू होने के बाद भी डायमंड हार्बर में फकीरचंद कॉलेज के सामने बम फेंका गया

कोलकाता. पश्चिम बंगाल के पंचायत चुनाव तीन चरणों में संपन्‍न हुए थे. इन चुनावों में हुई वोट‍िंग की ग‍िनती मंगलवार सुबह से की जा रही है. राज्य की करीब 73,887 सीटों पर हुए पंचायत चुनाव की मतगणना को लेकर कड़े सुरक्षा इंतजाम भी क‍िए गए हैं. पश्‍च‍िम बंगाल के 22 जिलों में करीब 339 काउंटिंग सेंटर बनाए गए हैं. सभी काउंट‍िंग सेंटर पर राज्य पुलिस और पैरा म‍िल‍िट्री फोर्स के जवानों की भी भारी संख्‍या में तैनाती की गई है. किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए सेंटरों के आसपास धारा 144 लागू की गई है. बावजूद इसके आज एक बूथ के बाहर बम फेंके जाने की घटना सामने आई.

मतगणना के बीच इस तरह के वि‍स्फोट होने की घटना को लेकर कई सवाल भी खड़े हो जा रहे हैं. माना जा रहा है क‍ि सभी 73,887 हजार सीटों की मतगणना शाम तो पूरी हो जाएगी और संभवत: चुनाव पर‍िणाम शाम को घोष‍ित कर द‍िए जाएंगे. लेक‍िन इससे पहले डायमंड हार्बर से बम व‍िस्‍फोट की खबर ने सभी को हैरान और परेशान कर द‍िया है. र‍िपोर्ट्स के मुताब‍िक डायमंड हार्बर में फकीरचंद कॉलेज के सामने बम फेंके जाने की घटना को अंजाम दिया गया है. इस जगह पर मतों की गणना हो रही है.

West Bengal Panchayat Election 2023 Result Live: पंचायत चुनावों में TMC का दबदबा, 3700 से अधिक सीटों पर जीत, भाजपा के खाते में 673 सीटें

डायमंड हार्बर में फकीरचंद कॉलेज में मतगणना केंद्र बनाया गया है, जहां सुबह 8 बजे से ही वोटों की गिनती की जा रही है. बताया जा रहा है क‍ि ये घटना 2 मतगणना एजेंटों के बीच हुई झड़प के बाद हुई. जिसमें दोनों के बीच मतगणना केंद्रों में प्रवेश करने को लेकर बहस हुई थी.

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता डॉ. संब‍ित पात्रा ने मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि बंगाल में हिंसा ‘राज्य प्रायोजित’ थी. इसके साथ ही उन्होंने पंचायत चुनावों में हिंसा के दौरान हुई मौतों को ‘घोर हत्या’ करार दिया. उन्‍होंने कहा क‍ि कुछ बेशर्म लोग इतनी आसानी से लोकतंत्र की मौत बर्दाश्त कर सकते हैं, लेकिन अपनी ‘महत्वाकांक्षाओं’ की मौत नहीं. ममता बनर्जी ‘मां’, ‘माटी’ और ‘मानुष’ के बारे में बात करती थीं. आज ‘मां’ की आंखों में आंसू हैं, ‘माटी’ खून से सनी हुई है, और ‘मानुष’ की हत्या हुई है. लेकिन निर्दयी बंद्योपाध्याय जी मूकदर्शक बनकर यह सब देख रही हैं.

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, ‘बंगाल में हिंसा और चुनाव एक-दूसरे का पर्याय बन गए हैं. पंचायत चुनाव हिंसा में अब तक 45 लोगों की मौत हो चुकी है.’ उन्होंने कहा कि बीजेपी ने 6000 बूथों पर दोबारा मतदान की मांग की है.

टैग: बी जे पी, कांग्रेस, Rahul gandhi, टीएमसी, पश्चिम बंगाल



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *