महिलाओं को कंसीव करने में आसान बनाती हैं ये 7 चीजें, अंडे की गुणवत्ता हो जाएगी दमदार, बेबी भी होगा हेल्दी

हाइलाइट्स

एवोकाडो में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड होता है जो अंडे की गुणवत्ता को बढ़ा देता है.
सेलेनियम अंडा में क्रोमोजोम को डैमेज नहीं होने देता.

खाद्य पदार्थ जो डिंब की गुणवत्ता में सुधार करते हैं: महिलाओं की फर्टिलिटी इस बात पर निर्भर करती है कि उसके गर्भाशय में हर महीने बनने वाला अंडा (Egg) या ओवम की गुणवत्ता कैसी है. अगर अंडाणु की क्वालिटी बेहतर होती है तो कंसीव करने में बहुत आसानी होती है. महिलाओं के अंडाशय (Ovaries) में अंडा न सिर्फ हर महीने पीरियड्स को नियमित करता है बल्कि कंसीव करने की क्षमता को भी बढ़ाता है. इसलिए महिलाओं के अंडाशय में बनने वाले अंडे की गुणवत्ता हर हाल में बेहतर होनी चाहिए.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर में द ऑरा स्पेसिएलिटी क्लिनिक गुड़गांव में गाइनेकोलॉजिस्ट डॉ. ऋतु सेठी ने बताया कि अंडा अगर हेल्दी हो तो बेबी भी हेल्दी होता है. इसके अलावा प्रेग्नेंसी भी स्मूद होता है. उन्होंने बताया कि हेल्दी ओवम के लिए कई फेक्टर जिम्मेदार होता है लेकिन इसमें आप जो खाती हैं, उसका भी बहुत योगदान होता है. कंस्लटेंट रेडियोलॉजिस्ट डॉ. नूरी ने इंस्टाग्राम पर इसे विस्तार से बताया है.

अंडा को बेहद शक्तिशाली बनाएंगे ये फूड

1. एवोकाडो-एवोकाडो में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड होता है. इसके साथ ही विटामिन ए और फॉलेट भी पाया जाता है. ये कंपाउंड महिलाओं में रिप्रोडक्टिव हेल्थ के लिए बेहद फायदेमंद है.

2.मसूर की दाल और बींस-
ये दोनों चीजें प्रोटीन और फॉलेट का खजाना है. मसूर की दाल और बींस अंडाणु की क्वालिटी को बेहतर करता है.

3. बैरीज-बैरीज कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट्स से भरी होती है. रस्पबैरीज, ब्लूबेरीज और स्ट्रॉबेरी ये तीनों नेचुरल एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटीइंफ्लामेटरी फायटोन्यूट्रेंड्स से भरे होते हैं. ये दोनों कंपाउंड एग की क्वालिटी को बेहतर बनाते हैं.

4. ड्राई फ्रूट्स और नट्स-प्रजनन उम्र की महिलाएं जो कंसीव करने की प्लानिंग कर रही हैं, उन्हें हर रोज ड्राई फ्रूट्स और बादाम का सेवन करना चाहिए. ये चीजें प्रोटीन, विटामिन और मिनरल्स से भरे होते हैं. इसके अलावा अखरोट जैसे ड्राई फ्रूट में सेलेनियम भी भरपूर मात्रा में होता है. सेलेनियम अंडा में क्रोमोजोम को डैमेज नहीं होने देता.

5. हरी पत्तीदार सब्जियां-ब्रोकली, पालक, कैबेज, केले आदि ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को होने नहीं देता. इससे यूटेरस में एंडोमेटेरियल लाइनिंग को मजबूत करता है.

6.तिल के बीज-तिल के दाने प्रोजेस्ट्रॉन हार्मोन को बढ़ाता है. इससे अंडा को अंडाशय से बाहर निकलने यानी रिलीज होने में मदद मिलती है. तिल के बीज यूट्रेस में एंडोमेटेरियल लाइनिंग को मजबूत करता है.

7.ओमेगा 3 फैटी एसिड-कई रिसर्च में यह साबित हो चुकी है कि जिस फूड में ओमेगा 3 फैटी एसिड ज्यादा होता है वह फर्टिलिटी को प्रभावकारी तरीके से बूस्ट करता है और अंडे की गुणवत्ता को बढ़ाता है. फिश, ओएस्टर, फ्लेक्स सीड्स, नट्स आदि में ओमेगा 3 फैटी एसिड प्रचूर मात्रा में होता है.

इसे भी पढ़ें-बरसात की खतरनाक बीमारी है हैजा, कुछ ही घंटे में शरीर का पूरा पानी लेती है सोख, इस तरह करें बचाव

इसे भी पढ़ें-5 तरीकों से करें इस एक चीज का सेवन, धमनियों से क्लीन स्वीप हो जाएगा बैड कोलेस्ट्रॉल, शुगर भी हो जाएगी पस्त

टैग: स्वास्थ्य, स्वास्थ्य सुझाव, जीवन शैली

(टैग्सटूट्रांसलेट)महिला प्रजनन क्षमता और अंडे की गुणवत्ता(टी)अंडे की गुणवत्ता और प्रजनन क्षमता को प्रभावित करने वाले कारक(टी)गर्भाधान के लिए अंडे की गुणवत्ता में सुधार कैसे करें(टी)बेहतर अंडे की गुणवत्ता के लिए आहार और पोषण(टी)तनाव में कमी और अंडे की गुणवत्ता(टी)पर्यावरणीय कारक और अंडे की गुणवत्ता (टी) हार्मोन और अंडे की गुणवत्ता (टी) जीवन शैली और अंडे की गुणवत्ता (टी) अंडे की गुणवत्ता को बढ़ावा देने के लिए खाद्य पदार्थ

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*