IPL में रातों-रात चमका था मुंबई का लड़का, धोनी की जादुई कप्तानी भी हुई थी फेल, अब बना गुमनाम बादशाह

हाइलाइट्स

पॉल वल्थाटी का करियर चढ़ा इंजरी की भेंट.
U-19 वर्ल्ड कप में वल्थाटी की आंख में लगी थी चोट.

नई दिल्ली. आईपीएल, एक ऐसी लीग जहां कई युवाओं का भविष्य हर साल इंतजार में बैठा रहता है. इस लीग ने टीम इंडिया को कई ऐसे खिलाड़ी दिए जिनके सामने अच्छे-अच्छे धुरंधर घुटने टेक देते हैं. फिर हम चाहें बात करें स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या की या फिर यॉर्कर स्पेशलिस्ट जसप्रीत बुमराह की. ये ही नहीं, टीम इंडिया के पास ऐसे कई प्लेयर्स मौजूद हैं जिन्होंने ऊंचाइयां छूने के लिए आईपीएल को अपनी राह बनाया. लेकिन आज हम ऐसे खिलाड़ी की बात करने जा रहे हैं जो आईपीएल में रातों-रात स्टार बना लेकिन किस्मत की मार ने उसे गुमनाम बादशाह ही बना दिया.

हम बात कर रहे हैं भारत के पॉल वल्थाटी की, जिन्हें किस्मत की ऐसी मार पड़ी कि उनकी चमक जल्द ही धुंधली पड़ गई. पॉल वल्थाटी का शुरुआती करियर शानदार था, उन्होंने अपने हरफनमौला प्रदर्शन के दम पर अपने आयु वर्ग के हर टूर्नामेंट में जगह बनाई. इतना ही नहीं, उन्हें आने वाले समय का स्टार माना जाने लगा था. लेकिन एक दौर ऐसा आया जब उनके लिए अंडर-19 वर्ल्ड कप में सेलेक्ट होना ही काल साबित हुआ. बांग्लादेश के खिलाफ एक मैच के दौरान उनके आंख में जोरदार गेंद लग गई. जिसके कारण वह लंबे समय तक क्रिकेट से दूर हो गए. लेकिन वल्थाटी इतनी जल्दी हार मानने वालों में से नहीं थे.

IPL में की जोरदार वापसी

साल 2010 आईपीएल में मुंबई की तरफ से वल्थाटी ने बेहतरीन प्रदर्शन किया. वहीं, उन्होंने असली तूफान तब लाया जब पंजाब की तरफ से 2011 में ओपनिंग करने उतरे. उस दौरान टीम की कमान एडम गिलक्रिस्ट के हाथों में थी. गिलक्रिस्ट के फैसले पर वल्थाटी टीम के संकटमोचक साबित हुए, वो भी ऐसी टीम के सामने जिसके कप्तान के फैसले के सामने अच्छे-अच्छे मात खा जाते हैं. इतने में आप समझ ही गए होंगे कि हम चतुर-चालाक एमएस धोनी की बात कर रहे हैं. उस मैच में वल्थाटी ने महज 63 गेंद में 120 ठोक दिए और अपनी टीम को सबसे यादगार जीत दिला दी. वह ऐसा दौर था जब वह आईपीएल के जरिए लगभग अपनी वापसी कर ही चुके थे. उन्होंने अगले 3 मुकाबलों में एक के बाद एक जबरदस्त पारियों को अंजाम दिया.

World Cup क्‍वालीफायर में लगाई विकेटों की झड़ी, विपक्षी टीमों के लिए ‘खतरे की घंटी’ बनेगा रिस्ट स्पिनर!

आईपीएल में लोगों की नजरों में पड़ते ही वल्थाड़ी को हाथ में एक ऐसा रोग हो गया जिससे उन्हें हल्की चीजें उठाने में भी परेशानी होने लगी. वहीं, कुछ समय बाद उनका घुटना भी चोटिल हो गया और बदकिस्तमती से वह एक बार फिर क्रिकेट से दूर हो गए. हालांकि, बाद में उन्हें मौके मिले लेकिन वह अपना जलवा फिर कभी बिखेर ही नहीं पाए.

टैग: आईपीएल, टीम इंडिया

(टैग्सटूट्रांसलेट)पॉल वाल्थाटी(टी)पॉल वाल्थाटी करियर(टी)पॉल वाल्थाटी चोट(टी)पॉल वाल्थाटी करियर स्टोरी(टी)क्रिकेट समाचार हिंदी में(टी)क्रिकेट समाचार(टी)टीम इंडिया(टी)इंडियन प्राइमर लीग(टी) आईपीएल(टी)एमएस धोनी(टी)पॉल वाल्थाटी

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*