फल खाने का क्या होता है बेस्ट टाइम, रात में फल खाना सच में नुकसानदायक? जान लें हकीकत, कभी न करें गलती

हाइलाइट्स

शुगर के मरीजों को फलों का सेवन कम मात्रा में करना चाहिए.
रात के वक्त हाई मैग्नीशियम फ्रूट नींद को बेहतर बना सकते हैं.

फल खाने का सबसे अच्छा समय: फल खाना सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है. हर मौसम में अलग-अलग फल आते हैं, जो शरीर को जरूरी पोषक तत्व देते हैं. फलों में मौजूद नेचुरल तत्व कई बीमारियों से बचाते हैं. स्वस्थ रहने के लिए सभी लोगों को अपनी डाइट में फल जरूर शामिल करने चाहिए. रंग-बिरंग फल स्वाद में लाजवाब होते हैं और इनमें पोषक तत्वों का खजाना छिपा होता है. अक्सर कहा जाता है कि रात के वक्त फल खाना नुकसानदायक हो सकता है. कई लोग इस बात को सच मानते हैं और रात को फल नहीं खाते. अब सवाल उठता है कि फल खाने का सही वक्त क्या होता है? क्या रात में फल खाने से परेशानी हो सकती है. इस बारे में हकीकत जान लेते हैं.

मेडिकल न्यूज़ टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक फल खाने के लिए कोई सबसे अच्छा समय नहीं होता है. किसी भी वक्त फल खाना फायदेमंद होता है. कई लोग कहते हैं कि सुबह या दोपहर के वक्त फल खाना ज्यादा लाभकारी होता है. हालांकि इस बात का कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है कि सुबह या दोपहर फल खाना ज्यादा फायदेमंद है. आसान भाषा में कहें, तो फल किसी भी वक्त खाए जा सकते हैं. यह लोगों के दिमाग में एक मिथक है, जो लंबे समय से चला आ रहा है. जो लोग किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं, वे फल खाने से पहले डॉक्टर से जरूर कंसल्ट कर लें.

फल खाने से नींद होती है प्रभावित?

माना जाता है कि रात को सोने से कुछ घंटे पहले फल खाने से नींद में परेशानी हो सकती है, लेकिन यह पूरी तरह मिथक है. द नेशनल स्लीप फाउंडेशन के अनुसार, सोने से पहले कुछ खाद्य पदार्थ खाने से शरीर की पाचन प्रक्रियाओं के कारण नींद में बाधा आ सकती है, लेकिन फलों के साथ ऐसा नहीं है. सोने से पहले प्रोसेस्ड फूड और जंक फूड से परहेज करना चाहिए. हालांकि ताजा फल खाए जा सकते हैं. सोने से पहले केला खाने से पोटेशियम मिलता है जो रात के समय पैरों की ऐंठन को रोक सकता है. हाई मैग्नीशियम वाले फल जैसे केला, खुबानी, या खजूर आरामदायक और बेहतर नींद में मदद कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें- बारिश के मौसम में फटाफट कर लें यह काम, कभी नहीं होंगे बीमार, फौलाद सी मजबूत बनेगी इम्यूनिटी

डायबिटीज के मरीज कब खाएं फल?

डायबिटीज के मरीजों के लिए कार्बोहाइड्रेट युक्त खाद्य पदार्थ शुगर लेवल बढ़ा सकते हैं. फलों में शर्करा सहित कार्बोहाइड्रेट होते हैं और इसलिए फल ब्लड शुगर के लेवल को प्रभावित कर सकते हैं. हालांकि फलों का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है और उनसे शुगर लेवल ज्यादा प्रभावित नहीं होता है. उच्च फाइबर की वजह से फल खाना डायबिटीज के मरीजों के लिए अच्छा माना जाता है. डायबिटीज के मरीज खाने के साथ फल खाएं, तो इससे शुगर लेवल कंट्रोल रहेगा. भोजन के पहले या बाद में फल खाने से ब्लड शुगर बढ़ सकता है. हालांकि डायबिटीज के मरीजों को फल खाने से पहले डॉक्टर या डाइटिशियन की सलाह लेनी चाहिए.

यह भी पढ़ें- सबसे ज्यादा पावरफुल 5 सब्जियां, शरीर को बना देती हैं पत्थर जैसा मजबूत, रोज इतनी मात्रा में खाएंगे तो मिलेगा फायदा

टैग: फल, स्वास्थ्य, जीवन शैली, ट्रेंडिंग न्यूज़

(टैग्सटूट्रांसलेट)फल खाने का सबसे अच्छा समय(टी)भोजन से पहले या बाद में फल खाने का सबसे अच्छा समय(टी)क्या हम दोपहर के भोजन या रात के खाने के बाद फल खा सकते हैं(टी)रात के खाने के बाद खाने के लिए सबसे अच्छे फल(टी)रात के खाने के बाद हम कौन से फल खा सकते हैं (टी) क्या सोने से पहले फल खाना अच्छा है (टी) क्या सोने से पहले फल नींद के लिए हानिकारक है (टी) रात में खाने के लिए कुछ अच्छे फल कौन से हैं (टी) क्या रात के खाने के बाद सेब अच्छा है (टी) क्या हम रात में फल खा सकते हैं (टी) रात में कौन से फल खाना सबसे अच्छा है (टी) क्या दोपहर के भोजन या रात के खाने के बाद फल खाना अच्छा है (टी) क्या मैं रात के खाने में फल खा सकता हूं (टी) क्या हमें नाश्ते या रात के खाने में फल खाना चाहिए (टी) रात में फाल खाना चाहिए या नहीं

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*