गुलाम को छोड़ सचिन मीणा से क्यों की शादी, किसने दी मारने की धमकी… सीमा हैदर ने बयां किया सबकुछ

नई दिल्ली. प्रेमी सचिन मीणा के साथ रहने के लिए पाकिस्तान छोड़कर नेपाल के रास्ते चार बच्चों के साथ भारत आई पाकिस्तानी महिला सीमा गुलाम हैदर ने सोमवार को भारत सरकार से नागरिकता की मांग की और अपने पति गुलाम हैदर जखरानी पर कई सनसनीखेज आरोप लगाए. सचिन और सीमा दोनों वर्ष 2019 में ऑनलाइन गेम पबजी के माध्यम से एक-दूसरे के संपर्क में आए थे और आखिरकार पाकिस्तानी महिला अपना वतन छोड़कर ग्रेटर नोएडा में आकर सचिन के साथ रहने लगी.

न्यूज़18 के साथ बातचीत में सीमा हैदर ने कहा कि वह अब पाकिस्तान वापस नहीं जाना चाहती है क्योंकि अगर वह वापस गई तो उसकी जान को खतरा है. सीमा ने पति जखरानी पर आरोप लगाते हुए कहा, ‘उसने मुझे प्रताड़ित किया, बच्चों को पढ़ने से रोका और परिवार का ध्यान भी नहीं रखा.’ सीमा ने यह भी बताया कि उसे पाकिस्तान से धमकियां मिल रही हैं. पाकिस्तानी महिला ने कहा कि जबरदस्ती के रिश्ते नहीं चलते और यही वजह है कि उसने पति को छोड़ सचिन को अपना जीवनसाथी चुन लिया.

दूसरी तरफ, जखरानी का आरोप है कि उसकी पत्नी को बरगला कर पाकिस्तान से ले जाया गया है. जखरानी ने भारत और पाकिस्तान की सरकार और मीडिया से पत्नी व बच्चों को वापस भिजवाने के लिए गुहार लगाई है. सीमा के पति गुलाम हैदर जखरानी ने सोशल मीडिया के जरिये और भारतीय मीडिया से संपर्क करके पत्नी-बच्चों से बिछड़ने का दर्द बयां किया है. उसने कहा कि वह सबकुछ भूलकर सीमा को अपनाने के लिए तैयार है.

पाकिस्तानी महिला सीमा गुलाम हैदर (30) के भारत में अवैध रूप से रहने को लेकर उसे और सचिन मीणा (25) दोनों को पुलिस ने चार जुलाई को गिरफ्तार किया गया था. हालांकि, 7 जुलाई को नोएडा की एक अदालत से दोनों को जमानत मिल गई थी. सीमा पर भारत में अवैध रूप से प्रवेश करने और सचिन पर अवैध अप्रवासी को शरण देने को लेकर मामला दर्ज किया गया है.

दोनों ने चार जुलाई को पुलिस और मीडिया के समक्ष एक-दूसरे से प्यार करने की बात कबूल की थी. दोनों ने भारत सरकार से आग्रह किया है कि उन्हें शादी करके एक-दूसरे के साथ भारत में रहने की अनुमति दी जाए. दोनों के खिलाफ रबूपुरा थाने में मामला दर्ज किया गया था.

सीमा ने बताया कि उसने और सचिन ने नेपाल के काठमांडू में शादी कर ली है. सीमा पहले पाकिस्तान से नेपाल गई और फिर भारत आई. नेपाल से भारत आने वालों को पासपोर्ट या वीजा रखने की जरूरत नहीं होती है.

टैग: पाकिस्तान

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*