Sikar News: सड़क पर बने गड्डे में भरा पानी, कोचिंग छात्र की डूबने से मौत, बवाल मचा और राजनीति गरमाई

हाइलाइट्स

सीकर में शनिवार रात को हुआ हादसा
नवलगढ़ रोड पर जलभराव का मुद्दा पहले से चर्चा में है
पिछले वर्ष भी यहां इस मुद्दे को लेकर लंबा आंदोलन चला था

संदीप हुड्डा.

सीकर. शेखावाटी के सबसे बड़े शहर सीकर (Sikar) में नवलगढ़ रोड के बीचोंबीच बने गड्डे में भरे पानी में डूबने से शनिवार रात एक कोचिंग छात्र की मौत हो गई. हादसा होते ही वहां बवाल मच गया. यह गड्डा यहां सीवरेज के काम के लिए खोदा गया था. उसके बाद बारिश में उसमें पानी भर गया. हादसे का शिकार हुआ छात्र इसी रोड पर स्थित एक कोचिंग सेंटर में पढ़ता था. छात्र की गड्डे में डूबने से मौत हो गई. हादसे के बाद आक्रोशित लोगों ने जमकर बवाल काटा. रविवार से अनिश्चितकाल के लिए सीकर बंद का आह्वान किया गया है.

पहले से राजनीतिक मुद्दा बनी नवलगढ़ रोड पर राजनीति अब और गरमा गई है. हादसे के बाद पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा सीकर जिला मुख्यालय स्थित कल्याण अस्पताल पहुंचे. वहीं नेत प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने हादसे के लिए सरकार को जिम्मेदार बताया. इस मसले को लेकर अब बीजेपी और कांग्रेस में ट्वीटर वार छिड़ गया है. आज इस मुद्दे पर हंगामा होने के आसार हैं. लिहाजा पुलिस प्रशासन अलर्ट मोड पर आया हुआ है.

कोचिंग सेंटर से वापस पीजी जा रहा था छात्र
जानकारी के अनुसार यह हादसा शनिवार रात को हुआ. झुंझुनूं जिले के मलसीसर इलाके के हमिरी कला गांव निवासी युवराज मीणा सीकर में 12वीं कक्षा में पढ़ रहा था. वह यहां पर आईआईटी की कोचिंग भी कर रहा था. रात को वह कोचिंग से वापस अपने पीजी में जा रहा था. इसी दौरान नवलगढ़ रोड़ पर सड़क के बीच बने गड्ढे में युवराज गिर गया. इस गड्डे में भरे पानी में डूबने से उसकी मौत हो गई. हादसे की सूचना पर सिविल डिफेंस की टीम मौके पर पहुंची. उसने 20 मिनट बाद ही युवराज को निकाल लिया लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी.

पीसीसी चीफ डोटासरा पहुंचे अस्पताल
हादसे की सूचना शहर में आग की तरह फैल गई. रात को ही नगर परिषद में नेता प्रतिपक्ष अशोक चौधरी के नेतृत्व में बीजेपी के पार्षद अस्पताल पहुंचे और नगर परिषद प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. मामले की गंभीरता को देखते हुए गोविंद सिंह डोटासरा सहित कई जनप्रतिनिधि भी अस्पताल पहुंचे. वहीं नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने नवलगढ़ रोड पर बीते वर्ष भरे पानी और उसके समाधान के लिए हुए आंदोलन का वीडियो ट्वीटर पर पोस्ट कर इस घटना को सरकार के माथे पर कलंक बताया है.

राठौड़ बोले जिम्मेदार नेता चिरनिद्रा में सोए हुए हैं
राठौड़ ने कहा कि पीसीसी अध्यक्ष के गृह जिले में दरिया बनी सड़कों पर जलभराव के चलते छात्र, महिला और व्यापारी समेत हर वर्ग परेशान है. यह जलभराव अब जानलेवा साबित हो रहा है। लेकिन जिम्मेदार नेता चिरनिद्रा में सोए हुए हैं. वहीं गोविंद सिंह डोटासरा ने घटना को दुखद बताते हुए ‌ट्वीट कर कहा सीकर जिला प्रशासन दोषी के खिलाफ कार्रवाई करे.

टैग: बड़ा हादसा, अपराध समाचार, राजस्थान समाचार, Sikar news

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*