सरिस्का में बाघों का लगातार बढ़ रहा कुनबा, 2 शावकों के जन्म के बाद यहां हुए 30 टाइगर

पीयूष पाठक/अलवर. राजस्थान के अलवर जिला स्थित सरिस्का टाइगर रिजर्व से खुशखबरी आई है. सरिस्का में बीते छह जुलाई की सुबह कैमरा ट्रैप में बाघिन एसटी-19 के दो नए शावक नजर आए हैं. बाघ शावकों के जन्म के बाद अब सरिस्का में बाघों का कुनबा बढ़ कर 30 हो गया है.

सरिस्का के मुख्य वन संरक्षक एवं क्षेत्र निदेशक आर.एन मीणा ने बताया कि सरिस्का के बफर रेंज के वन क्षेत्र में बाघिन एसटी-19 के मूवमेंट क्षेत्र में छह जुलाई के कैमरा ट्रैप का अवलोकन करने पर दो नवजात शावक दिखाई दिए. बाघिन एवं दोनों शावकों का मूवमेंट सामान्य पाया गया है. बाघिन एसटी-19 एवं दोनों नवजात शावकों की मॉनिटरिंग बढा दी गई है.

सरिस्का में बाघिन एसटी-19 के दो नए शावक दिखाई देने से यहां बाघों की कुल संख्या 30 हो गयी है. पहले बाघों का कुनबा 28 का था. सरिस्का के बफर रेंज में बाघिन एसटी-19 के साथ दो नन्हें शावक हैं. संभवत: इनका पिता क्षेत्र में विचरण करने वाला नर बाघ एसटी-18 है. सरिस्का प्रशासन की योजना वर्ष 2023-24 में बाघों की संख्या को बढ़ा कर 30 से 35 तक करने की है.

बता दें कि, सरिस्का टाइगर रिजर्व बीते एक जुलाई से पर्यटकों के लिए बंद हो गया है. बाघिन एसटी-19 ने बफर रेंज में शावकों की जन्म दिया है. इससे यहां पर भी बाघों की संख्या चार से बढ़ कर छह हो गयी है. इसमें बाघ एसटी-18, बाघिन एसटी-19 व दो शावकों के साथ दो नए शावक हैं.

.

पहले प्रकाशित : 09 जुलाई, 2023, शाम 5:00 बजे IST

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*