MS Dhoni Birthday: स्कूल टाइम से ही खेलते थे क्रिकेट, हाई स्कूल के बाद छोड़ी पढ़ाई, ऐसे बदली किस्मत

एमएस धोनी का जन्मदिन: संघर्ष, लगन और मेहनत किसी भी इंसान को उस ऊंचाई तक ले जाता है, जिसकी वह कल्पना नहीं करता है. ऐसे ही कहानी है कैप्टन कूल कहे जाने वाले महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) की है. महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) का सफर एक TTE की नौकरी (Sarkari Naukri) से शुरू हुई थी. उन्हें स्पोर्ट्स में काफी दिलचस्पी थी और वह स्कूल टाइम से ही स्पोर्ट्स खेलते थे. धोनी (Dhoni) ने अपनी स्कूली शिक्षा डीएवी जवाहर विद्या मंदिर, रांची, झारखंड से की और बैडमिंटन, फुटबॉल और क्रिकेट जैसे कई खेलों में अच्छा परफॉरमेंस किया. उन्होंने अपनी फुटबॉल टीम के लिए गोलकीपर के रूप में खेला और एक स्थानीय क्लब के लिए क्रिकेट भी खेलते थे.

एमएस धोनी (MS Dhoni) का जन्म 7 जुलाई 1981 को रांची, बिहार (वर्तमान झारखंड) में एक हिंदू राजपूत परिवार में पान सिंह और देवकी देवी के घर हुआ था. उनका पैतृक गांव उत्तराखंड के अल्मोडा के लमगड़ा ब्लॉक में है. उनके पिता, पान सिंह, उत्तराखंड से रांची चले आए और मेकॉन में जूनियर मैनेजर के पदों पर काम किया. धोनी की एक बहन जयंती गुप्ता और भाई नरेंद्र सिंह धोनी  हैं. धोनी ने 1995-98 के दौरान कमांडो क्रिकेट क्लब में प्रभावशाली विकेटकीपिंग स्किल दिखाया और उन्हें 1997-98 सेशन के लिए वीनू मांकड़ ट्रॉफी अंडर -16 चैंपियनशिप के लिए चुना गया और उन्होंने अच्छा खेला. हाई स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद धोनी (Dhoni) ने क्रिकेट पर ध्यान केंद्रित किया. वर्ष 2001-2003 के दौरान, धोनी पश्चिम बंगाल में दक्षिण पूर्व रेलवे के अंतर्गत खड़गपुर रेलवे स्टेशन पर TTE (Travelling Ticket Examiner) थे.

ऐसे शुरू हुई थी MS Dhoni की करियर
साल 1998 में एमएस धोनी को सेंट्रल कोल फील्ड्स लिमिटेड (CCL) टीम के लिए चुना गया था. वर्ष 1998 तक, उन्होंने स्कूल क्रिकेट टीम और क्लब क्रिकेट के लिए खेला. जब धोनी ने शीश महल टूर्नामेंट के क्रिकेट मैचों में छक्का मारा, तो उन्हें देवल सहाय ने 50 रुपये का उपहार दिया, जिन्होंने उन्हें CCL के लिए चुना था. उनके बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर CCL ए डिवीजन में आ गया. देवल सहाय उनके समर्पण और क्रिकेट स्किल से प्रभावित हुए और बिहार टीम में उनके चयन के लिए दबाव डाला. 1999-2000 सीज़न के लिए उन्हें 18 साल की उम्र में सीनियर बिहार रणजी टीम में चुना गया. उन्हें ईस्ट जोन अंडर-19 टीम (सीके नायडू ट्रॉफी) या शेष भारत टीम (एमए चिदंबरम ट्रॉफी और वीनू मांकड़ ट्रॉफी) के लिए नहीं चुना गया था.

ये भी पढ़ें…
सेना में बिना परीक्षा ऑफिसर बनने का मौका, ग्रेजुएट के साथ चाहिए ये सर्टिफिकेट
सीयूईटी यूजी के रिजल्ट में क्यों हो रही है देरी? जानें इसके पीछे की वजह

टैग: क्रिकेट, शिक्षा, म स धोनी

(टैग्सटूट्रांसलेट) एमएस धोनी की जीवनी (टी) एमएस धोनी विकी (टी) एमएस धोनी का जन्मदिन धोनी धोनी का जन्मदिन महेंद्र सिंह धोनी

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*