थायरॉयड की बीमारी को और अधिक बढ़ा देते हैं ये खास तरह के फूड, अभी से बना लें दूरी, वरना लेने के देने पड़ जाएंगे, ये है लिस्ट

हाइलाइट्स

थायरॉयड की बीमारी में थायरॉयड हार्मोन कम बनता है इसके कारण हमेशा थकान रहने लगती है.
ज्वाइंट पेन, ड्राई स्किन, बालों में पतलापन, अनियमित पीरियड्स आदि थायरॉयड के अन्य लक्षण हैं.

थायराइड के लिए हानिकारक खाद्य पदार्थ: थायरॉयड एक हार्मोन का नाम है जो थायरॉयड ग्रंथि से निकलता है. यह थायरॉयड ग्रंथि गले के बीच में पाई जाती है. थायरॉयड की बीमारी तब होती है जब थायरॉइड ग्रंथि से थायरॉयड हार्मोन कम निकलता है. हालांकि ज्यादा निकलना भी बीमारी है. हमारे शरीर में एनर्जी का इस्तेमाल किस तरह होना चाहिए इसका नियंत्रण थायरॉयड हार्मोन ही करता है. इसके साथ ही यह शरीर में लगभग हर अंग को फ्रभावित करता है. यहां तक कि सांसों की धड़कन को कंट्रोल करने में भी थायरॉयड हार्मोन की भूमिका होती है. अगर थायरॉयड हार्मोन कम हो तो शरीर में कई तरह के फंक्शन स्लो हो जाते हैं.

थायरॉयड बीमारी के लक्षण
अगर किसी को थायरॉयड की बीमारी है यानी थायरॉयड हार्मोन कम बन रहा है तो हमेशा थकान रहने लगती है. इसके साथ ठंड को सहन करने की क्षमता कम हो जाती है. वहीं वजन बढ़ जाता है और मसल्स में बहुत दर्द करने लगता है. ज्वाइंट पेन, ड्राई स्किन, बालों में पतलापन, अनियमित पीरियड्स, फर्टिलिटी की समस्या, हार्ट रेट का धीमा हो जाना, डिप्रेशन आदि थायरॉयड के अन्य लक्षण हैं.

थायरॉयड के कारण
थायरॉयड के कई कारण होते हैं. कुछ मामलों में ऑटोइम्यून डिजीज जिम्मेदार हो सकते हैं. इसके साथ ही थायरॉयड सर्जरी, रेडिएशन थेरेपी, थायरॉयडाइटिस, कुछ दवाइयां आदि भी जिम्मेदार होते हैं. हालांकि अधिकांश मामलों आयोडीन की कमी इसके लिए जिम्मेदार होती है.

थायरॉयड में ये फूड बीमारी को और बढ़ा देंगे

1.ग्लूटेन और अल्ट्रा प्रोसेस्ड फूड-हेल्थलाइन की खबर के मुताबिक ग्लूटेन प्रोटीन का एक समूह है जो गेंहू, बार्ली, राई आदि में पाया जाता है. ग्लूटेन फूड थायरॉयड की परेशानी को और अधिक बढ़ा देता है. हालांकि आजकल ग्लूटेन फ्री अनाज का चलन ज्यादा हो रहा है क्योंकि डायबिटीज में ग्लूटेन फ्री अनाज खाने की सलाह दी जाती है. इसके साथ ही अल्ट्रा-प्रोसेस्ड फूड थायरॉयड की बीमार को और अधिक बढ़ा देता है. ग्लूटेन और अल्ट्रा-प्रोसेस्ड फूड सिर्फ थायरॉयड ही नहीं बल्कि हार्ट डिजीज और डायबिटीज सहित कई बीमारियों को और अधिक बढ़ा देता है. इन फूड को खाने से शरीर में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस बनता है जो कई बीमारियों की वजह है.

जिस फूड को तेल या बटर के साथ बहुत अधिक प्रक्रिया कर के बनाया जाता है, जिसमें एडेड शुगर की मात्रा ज्यादा रहती है, जो डिप फ्राई कर बनाया जाता है, ये अल्ट्रा-प्रोसेस्ड फूड होते हैं. क्रीम, बर्गर, सॉसेज, पिज्जा, बर्गप, कार्बोनेटेड ड्रिंक, फ्लेवर्ड ड्रिंक, इंटस्टेंट फूड, अल्कोहलिक ड्रिंक, व्हिस्की, रम, सोडा, स्वीटेंड ब्रेकफास्ट, पोटेटो चिप्स, फ्राइड चिकन, फ्रोजन फूड, एनर्जी ड्रिंक, आर्टिफिशियल चीज आदि प्रोसेस्ड फूड के उदाहरण हैं.

2. ग्वॉटर बढ़ाने वाले फूड-कुछ फूड ऐसे होते हैं जिसे खाने से ग्वॉटर की बीमारी और अधिक बढ़ जाती है. क्रुसीफेरस सब्जियां और सोया प्रोडक्ट थायरॉयड की बीमारी को और अधिक बढ़ा देते हैं. ये चीजें थायरॉयड के प्रोडक्शन को प्रभावित करती हैं. इसमें फूलगोभी, ब्रोकली, केले, ब्रसेल्स, बोक चॉय, सोया प्रोडक्ट आदि शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें: दांतों को क्रिस्टल की तरह चमकाना है तो महंगे प्रोडक्ट की जरूरत नहीं, 3 हर्बल चीजों का करें इस्तेमाल, सारी बीमारियां जाएंगी भाग

इसे भी पढ़ें:रोटी में घी लगाने से क्या घट जाता है मोटापा? किस तरह करता है शरीर पर असर, डॉक्टर ने बताई असली बात

टैग: स्वास्थ्य, स्वास्थ्य सुझाव, जीवन शैली

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*