क्या होगा अगर शरीर में बढ़ जाए विटामिन डी की मात्रा? 5 समस्याओं में तो नहीं पड़ जाएंगे आप, जानें इसके फायदे-नुकसान

हाइलाइट्स

विटामिन डी शरीर में कई अन्य पोषक तत्वों का निर्माण करता है.
विटामिन डी का ओवरडोज किडनी के कार्यों को प्रभावित करता है.

विटामिन डी के दुष्प्रभाव: विटामिन डी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होती है. सामान्यतौर पर विटामिन डी का सेवन हड्डियों को मजबूती देने के लिए किया जाता है. विटामिन डी शरीर में कई अन्य पोषक तत्वों का निर्माण भी करता है. वैसे तो विटामिन डी का मुख्य स्रोत सूर्य की रोशनी है, लेकिन इसकी भरपाई कुछ खाद्य पदार्थ भी कर सकते हैं. बता दें कि सूर्य की रोशनी से मिलने वाली विटामिन डी शरीर में कैल्शियम और फॉस्फोरस के लेवल को बनाए रखने में मदद करता है. शरीर में कैल्शियम तभी एब्जॉर्ब होगी, जब विटामिन डी की मौजूदगी होगी. लेकिन क्या आप जानते हैं कि शरीर में विटामिन डी मात्रा अधिक हो जाए तो फायदे की जगह नुकसान होने का खतरा बढ़ जाता है. आइए हेल्थलाइन की खबर के मुताबिक जानते हैं शरीर में अधिक विटामिन डी लेने के नुकसान.

शरीर में अधिक विटामिन डी होने के खतरे

किडनी की समस्या: किडनी हमारे शरीर से अपशिष्ट पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करती है. विटामिन डी का ओवरडोज किडनी के कार्यों को प्रभावित कर सकता है. बता दें कि, विटामिन डी की मात्रा बढ़ने पर किडनी की परेशानी बढ़ जाती है. ऐसी स्थित में गुर्दों को ज्यादा कैल्शियम आंब्जॉर्बशन करना पड़ता है. इसके चलते अधिक विटामिन डी के सेवन से किडनी फेल होने का भी खतरा रहता है.

कमजोर होंगी हड्डियां: विटामिन डी कैल्शियम को चयापचय करने में मदद करता है, जो स्वस्थ हड्डियों को स्टॉन्ग बनाने के लिए बेहद जरूरी है. लेकिन जब शरीर में इसकी अधिक मात्रा हो तो रक्त में विटामिन के2 के निम्न स्तर का कारण बन सकता है. बता दें कि, विटामिन के2 स्वस्थ हड्डियों को बनाए रखने में मदद करता है, इसलिए सामान्य मात्रा में विटामिन डी पूरक लेना महत्वपूर्ण है.

रक्त में कैल्शियम की अधिकता: रक्त में कैल्शियम की अधिकता होने को हाइपरकैल्सिमिया भी कहते हैं, जो विटामिन डी का साइड इफेक्ट है. इस बीमारी के होने से खून में कैल्शियम जमा होने लगता है. बता दें कि, यह हड्डियों को भी नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है, इसलिए रक्त में कैल्शियम की अधिक मात्रा होने से हाई ब्लड प्रेशर, हड्डियों का कमजोर होना, किडनी डैमेज, थकान, चक्कर आना आदि समस्याएं शुरू हो सकती हैं.

ये भी पढ़ें: क्या आप भी आम खाकर फेंक देते हैं छिलका? 4 बड़े फायदे जान लेंगे तो होगा पछतावा, एक्सपर्ट से जानें खाने का तरीका

उल्टी होना: शरीर में विटामिन डी अधिक मात्रा होने पर आपको उल्टी, जी मिचलाना जैसी समस्याएं भी शुरू हो सकती है. बता दें कि, खून में कैल्शियम के उच्च स्तर के कारण उल्टी और मतली का अनुभव जरूर होता है. हालांकि, ये जरूरी नहीं कि इस तरह की दिक्कत हर किसी व्यक्ति में हो.

ये भी पढ़ें: क्या बारिश के मौसम में गोलगप्पे खाना खतरनाक? किन बीमारियों का बढ़ता है खतरा, हकीकत जानकर रह जाएंगे हैरान

भूख की कमी: भूख कम लगना भी शरीर में अधिक विटामिन डी की मौजूदगी हो सकती है. यदि आपको भी इस तरह की कोई दिक्कत है तो डॉक्टर से जरूर मिलें. संभव हो तो इसकी जांच जरूर कराएं.

टैग: स्वास्थ्य, स्वास्थ्य समाचार, जीवन शैली

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*