क्या बारिश के मौसम में गोलगप्पे खाना खतरनाक? किन बीमारियों का बढ़ता है खतरा, हकीकत जानकर रह जाएंगे हैरान

हाइलाइट्स

गोलगप्पे बनाने की सामग्री कंटामिनेटेड हो जाए, तो उसे खाने वाले बीमार हो सकते हैं.
गोलगप्पे खाने से पहले वहां की सराउंडिंग और हाइजीन को देखना बेहद आवश्यक है.

पानीपुरी को अस्वास्थ्यकर क्या बनाता है: गोलगप्पा एक मशहूर स्ट्रीट फूड है, जो अधिकतर जगहों पर आसानी से मिल जाता है. गोलगप्पे खाना ज्यादातर लोगों को काफी पसंद होता है. कई जगहों पर इसे पानीपूरी भी कहा जाता है. हर मौसम में गोलगप्पे खाने की दीवानगी सिर चढ़कर बोलती है. इस वक्त देश के लगभग सभी राज्यों में मानसून आ चुका है और बारिश हो रही है. बरसात में खाने-पीने को लेकर अत्यधिक सावधानी बरतने की जरूरत होती है. हेल्थ एक्सपर्ट इस मौसम में स्ट्रीट फूड्स को अवॉइड करने की सलाह देते हैं. खासतौर से गोलगप्पे को लेकर लोगों को अलर्ट किया जाता है. आज आपको बताएंगे कि गोलगप्पे कैसे बारिश के मौसम में हानिकारक हो सकते हैं.  साथ ही यह भी बताएंगे कि इससे किन बीमारियों का खतरा बढ़ता है.

नोएडा के डाइट मंत्रा की फाउंडर और डाइटिशियन कामिनी सिन्हा के अनुसार बारिश के मौसम में जगह-जगह पानी भर जाता है और इससे बैक्टीरिया फैलने का खतरा बढ़ जाता है. इस मौसम में गोलगप्पे खाने से बचना चाहिए. सबसे पहले तो यह देखना चाहिए कि गोलगप्पे के स्टॉल के आसपास गंदगी या जलभराव तो नहीं है. गोलगप्पे बनाने में हाइजीन का ध्यान न रखा जाए, तो ये कंटामिनेटेड हो सकते हैं. ऐसे में गोलगप्पे खाने से लोगों को टाइफाइड, लूज मोशन, डायरिया समेत पेट से संबंधित कई परेशानियां हो सकती हैं. यह बात सिर्फ गोलगप्पों पर ही लागू नहीं होती, बल्कि सभी स्ट्रीट फूड्स के मामले में इस बात का ध्यान रखा जाना चाहिए. बरसात में स्ट्रीट फूड्स को अवॉइड करना चाहिए. इससे आप सेहतमंद रह सकेंगे. हालांकि स्ट्रीट फूड्स बनाने वाली जगह साफ हो और हाइजीन का ध्यान रखा गया हो, तो इन बीमारियों का खतरा कम होता है.

घर पर गोलगप्पे बनाकर खाना सेफ

कामिनी सिन्हा कहती हैं कि बारिश के मौसम में घर का बना ताजा खाना सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है. अगर गोलगप्पे या अन्य किसी स्ट्रीट फूड्स खाने का आपका मन हो रहा है, तो बेहतर होगा आप घर पर ही उसे बनाकर खाएं. ऐसा करने से बीमारियों से बचा जा सकता है. बरसात में गोलगप्पे में इमली के पानी की जगह पुदीने की पत्तियों का पानी ज्यादा फायदेमंद हो सकता है. घर पर भी खाना बनाते समय साफ सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए और बासी खाना बिल्कुल नहीं खाना चाहिए. बरसात में अगर आप फिट और तंदुरुस्त रहना चाहते हैं, तो हेल्दी डाइट लें. जंक फूड खाने से बचें.

यह भी पढ़ें- शरीर के लिए चमत्कारी है यह हरा पत्ता, खाने से निकालकर फेंक देते हैं अधिकतर लोग, कभी न करें गलती, मिलेंगे 5 फायदे

पानी का भी रखें विशेष खयाल

डाइटिशियन के मुताबिक बरसात के मौसम में टाइफाइड समेत पेट के इंफेक्शन फैलने की प्रमुख वजह गंदा पानी भी होता है. साफ पानी न मिलने पर लोगों की हेल्थ बुरी तरह प्रभावित होती है. गंदा पानी पीने से कई बीमारियां हो सकती हैं. बारिश के मौसम में सभी लोगों को साफ पानी ही पीना चाहिए. जिन लोगों के पास फिल्टर्ड पानी की सुविधा नहीं है, वे पीने के पानी को उबालकर ठंडा कर लें. इसके बाद ही उसे पिएं. साथ ही खाने-पीने की चीजों को अच्छी तरह साफ करें और तब उनका सेवन करें. बारिश में भीगने से बचें और सेहत को अच्छा रखने की पूरी कोशिश करें. अगर किसी तरह की परेशानी हो, तो डॉक्टर से मिलकर इलाज कराएं.

यह भी पढ़ें- हेल्थ के लिए बेहद करामाती है टमाटर जैसा छोटा फल, हार्ट डिजीज-अर्थराइटिस से बचाने में कारगर, जानें 5 बड़े फायदे

टैग: स्वास्थ्य, जीवन शैली, मानसून, सड़क का भोजन, ट्रेंडिंग न्यूज़

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*