आईआईटी प्लेसमेंट: अक्सर लोगों की इच्छा होती है कि ऐसी जगह से पढ़ाई करें, जहां से प्लेसमेंट (IIT Placement) के जरिए अच्छी नौकरी (Job) मिल जाए. इसके लिए अधिकांश लोग 12वीं के बाद IIT से पढ़ाई करना चाहते हैं. IIT Madras में एक ऐसे ही कोर्स है, जहां से पढ़ाई करने पर अच्छी सैलरी पैकेज वाली नौकरी मिलती है. इस कोर्स में कई बड़ी-बड़ी कंपनियां प्लेसमेंट के लिए आती है. भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास (IIT Madras) ने 2004 में बायोटेक्नोलॉजी विभाग की स्थापना की. संस्थान के 2021 के आंकड़ों के अनुसार, बायोटेक्नोलॉजी विभाग के 4 प्रमुख डोमेन बायोलॉजिकल साइंस, बायोमॉल्यकूलर साइंस, कम्प्यूटेशनल बायोलॉजी और बायोलॉजिकल इंजीनियरिंग है.

संस्थान में 33 सदस्यों का रेगुलर फैकल्टी है. विभाग डुअल डिग्री प्रोग्रामों में लगभग 330 यूजी छात्रों, 60 मास्टर लेवल के छात्रों (एमटेक/एमएस), 200 डॉक्टरेट स्कॉलर (पीएचडी), 30 पोस्टडॉक्टरल स्कॉलरों और प्रोजेक्ट कर्मचारियों और 13 तकनीकी और प्रशासनिक कर्मचारियों की मेजबानी करता है. IIT Madras का यह विभाग दो एकीकृत डुअल डिग्री प्रोग्राम भी प्रदान करता है. रिसर्च द्वारा मास्टर ऑफ साइंस (एमएस), एमटेक क्लिनिकल इंजीनियरिंग के साथ डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी (पीएचडी) प्रोग्राम जो एक बहु संस्थागत कार्यक्रम और एमटेक प्रोग्राम बायोप्रोसेस इंजीनियरिंग भी है.

IIT Madras के इस कोर्स में प्लेसमेंट ट्रेंड
पिछले कुछ वर्षों में बायोटेक्नोलॉजी में प्लेसमेंट ट्रेंड में कई उतार-चढ़ाव देखने को मिले हैं. IIT Madras बायोटेक्नोलॉजी विभाग का औसत वेतन वर्ष 2017-18 में 11.6 लाख रुपये प्रति वर्ष से बढ़कर वर्ष 2021-2022 में 16.96 लाख रुपये प्रति वर्ष हो गया है, लेकिन  वर्ष 2018-19 में यह घटकर 11.58 लाख रुपये प्रति वर्ष हो गया. कोविड के वर्षों में वर्ष 2019-20 में 12.73 लाख रुपये प्रति वर्ष और वर्ष 2020-21 में 14.26 लाख रुपये प्रति वर्ष के साथ लगातार वृद्धि दर्ज की गई.

IIT Madras के इस में कोर्स में ऑफर की बात करें, तो यह संख्या वर्ष 2017-18 में 44 से घटकर वर्ष 2018-19 में 31 हो गई और फिर वर्ष 2019-20 में बढ़कर 46 हो गई. लेकिन वर्ष 2020-21 में घटकर 38 रह गई. वर्ष 2020-21 में यह कमी कोविड महामारी की वजह से यह परिणाम हो सकता है. हालांकि वर्ष 2021-22 में ऑफर की कुल संख्या बढ़ाकर 67 कर दी गई. वर्ष 2017-18 में प्लेसमेंट पाने वाले छात्रों की संख्या 34 से घटकर वर्ष 2018-19 में 26 हो गई. इसके बाद यह वर्ष 2019-20 में बढ़कर 38 हो जाता है और फिर वर्ष 2020-21 में घटकर 37 हो जाता है. हालांकि वर्ष 2021-22 में प्लेसमेंट पाने वाले छात्रों की संख्या तेजी से बढ़कर 54 हो गई.

IIT Madras के इस कोर्स में प्लेसमेंट के लिए आती हैं टॉप कंपनियां
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार संस्थान द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के मुताबिक वर्ष 2021-22 में प्लेसमेंट प्रतिशत 56 था. बायोटेक्नोलॉजी विभाग का न्यूनतम पैकेज 10 लाख रुपये सालाना और अधिकतम पैकेज वर्ष 2021-22 में 35.22 लाख रुपये सालाना था. वर्ष 2022-23 प्लेसमेंट सीज़न के टॉप रिक्रूटर में टेक्सास इंस्ट्रूमेंट्स, बजाज ऑटो, क्वालकॉम, जेपी मॉर्गन चेज़, प्रॉक्टर एंड गैंबल, मॉर्गन स्टेनली, ग्रेविटॉन, मैकिन्से एंड कंपनी और कोहेसिटी शामिल थे.

ये भी पढ़ें…
एम्स NORCET का फाइनल रिजल्ट जारी, ये रहा चेक करने का Direct Link
दिल्ली पुलिस में सब इंस्पेक्टर को कितनी मिलती है सैलरी, क्या-क्या है सुविधाएं?

टैग: आईआईटी, आईआईटी मद्रास

(टैग्सटूट्रांसलेट)आईआईटी प्लेसमेंट(टी)आईआईटी मद्रास(टी)आईआईटी कोर्स(टी)आईआईटी मद्रास सीटीसी(टी)आईआईटी उच्चतम पैकेज(टी)नौकरी(टी)शीर्ष कंपनियां

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *