नई दिल्‍ली. हेडिंग्‍ले टेस्‍ट में इंग्‍लैंड की जीत ने एशेज सीरीज 2023 (Ashes-2023) के रोमांच को लौटा दिया है. पांच टेस्‍ट की सीरीज में भले ही ऑस्‍ट्रेलिया 2-1 की बढ़त बनाए हुए है लेकिन तीसरे टेस्‍ट की जीत ने मेजबान टीम के फैंस में नई उम्‍मीद जगाने का काम किया है. कुछ अति उत्‍साही फैन तो यह भी सोचने लगे हैं कि अगले दोनों टेस्‍ट जीतते हुए इंग्‍लैंड 3-2 से सीरीज पर भी कब्‍जा कर सकता है. निश्चित रूप से यह आसान नहीं होने वाला लेकिन इसमें कोई शक नहीं कि हेडिंग्‍ले में मार्क वुड (Mark Wood)और किस वोक्‍स (Chris Woakes)के आगे ऑस्‍ट्रेलियाई बैटर संघर्ष करते हुए नजर आए.

गेंद के अलावा मुश्किल वक्‍त पर बल्‍ले से भी इन्‍होंने शानदार प्रदर्शन किया और इंग्‍लैंड की 3 विकेट की जीत के हीरो रहे. प्‍लेयर ऑफ द मैच वुड की बात करें तो उन्‍होंने महंगे साबित होने की परवाह किए बिना 150 KM/घंटे के आसपास की रफ्तार की गेंदों से ऑस्‍ट्रेलियाई बल्‍लेबाजों को चैन नहीं लेने दी. पहली पारी में पांच और दूसरी में दो विकेट लेने वाले वुड को इस प्रदर्शन के लिए ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) की जमकर प्रशंसा मिली है.

वुड से छोटे-छोटे स्‍पैल फिंकवाएं

ICC Review के ताजा एपिसोड में संजना गणेशन से बात करते हुए पोंटिंग ने वुड को ऑस्‍ट्रेलिया के दिग्‍गज गेंदबाज मिचेल जॉनसन (Mitchell Johnson)और ब्रेट ली (Brett Lee) की तरह ‘घातक हथियार’ बताया. ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान ने कहा, ‘(वुड) कुछ हद तक जॉनसन और कुछ हद तक ब्रेट ली जैसा है.’ पहले चेंज के तौर पर बॉलिंग के लिए आना, तेज गेंदें फेंकना, बैटरों में खौफ पैदा करना और जब मौजूद हो तो विकेट से मूवमेंट हासिल करना. यह वाकई अचूक हथियार है.’ पोंटिंग ने यह भी कहा कि इंग्‍लैंड को क्रीज पर आने वाले नए बैटर्स को अस्थिर करने के लिए छोटे-छोटे स्‍पैल में अपने इस ट्रंप कार्ड का इस्‍तेमाल करना चाहिए. इसके साथ ही उन्‍होंने आने वाले दोनों टेस्‍ट में फिटनेस और समान गति से गेंदबाजी को इंग्‍लैंड और वुड के लिए चुनौती माना है.

वे मेरे लिए परिवार की तरह…’ युजवेंद्र चहल ने धोनी, विराट और रोहित के साथ बॉन्डिंग का किया जिक्र

वुड-वोक्‍स को तीसरे टेस्‍ट में मिली थी प्‍लेइंग XI में जगह

खास बात यह है वुड और वोक्‍स को हेडिंग्‍ले में ही इंग्‍लैंड की प्‍लेइंग XI में स्‍थान मिला था और इन्‍होंने इस अवसर को दोनों हाथों से लपकते हुए इंग्‍लैंड की जीत में अहम रोल निभाया. सीरीज का चौथा टेस्‍ट मेनचेस्‍टर में 19 जुलाई से खेला जाएगा, यह इंग्‍लैंड के महान तेज गेंदबाज 40 वर्षीय जेम्‍स एंडरसन (James Anderson) का होमग्राउंड भी है.हालांकि एंडरसन एशेज में अब तक अच्‍छा प्रदर्शन नहीं कर सके हैं लेकिन घरेलू दर्शकों को उम्‍मीद है कि वे अपने हीरो को रिटायरमेंट से पहले आखिरी बार होमग्राउंड पर बॉलिंग करते हुए देख सकेंगे.

टैग: राख, क्रिस वोक्स, क्रिकेट, इंग्लैंड क्रिकेट टीम, इंग्लैंड बनाम ऑस्ट्रेलिया, मार्क वुड

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *