हाइलाइट्स

सहजन की पत्तियां विटामिन, खनिज पदार्थ, एंटीऑक्‍सीडेंट, क्‍लोरोफिल और पूर्ण अमीनो-एसिड का अच्छा स्रोत मानी जाती हैं.
बरसात में इन पत्तियों का सेवन करने से इम्यूनिटी बूस्ट होती है, मोटापा कम होता है, पेट में दर्द और कब्ज से निजात मिलती है.

सहजन की पत्ती के फायदे: आयुर्वेद में कई ऐसे करामाती पेड़-पौधों का जिक्र है, जो सेहत के लिए बेहद फायदेमंद साबित हुए हैं. ऐसी ही एक पौधे का नाम है सहजन. बता दें कि, आयुर्वेद में वर्षों से इस पौधे की फलियां ही नहीं पत्तियों का भी दवाइयों के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है. सहजन की पत्तियां विटामिन, खनिज पदार्थ, एंटीऑक्‍सीडेंट, क्‍लोरोफिल और पूर्ण अमीनो-एसिड का अच्छा स्रोत मानी जाती हैं. हालांकि इसकी हरी पत्तियों के बजाह सूखी पत्तियां स्वास्थ्य के लिए अधिक असरदार मानी जाती हैं. बरसात में इस पत्तियों का नियमित सेवन करने से इम्यूनिटी बूस्ट होती है, मोटापा कम होता है, पेट में दर्द और कब्ज जैसी परेशानियों से निजात मिलती है. आइए बलरामपुर चिकित्सालय लखनऊ के आयुर्वेदाचार्य डॉ. जितेंद्र शर्मा से जानते हैं मानसून में सहजन की पत्तियां खाने के लाभ.

सहजन की पत्तियों के 5 चमत्कारी लाभ

बैक्टीरिया के खतरे से बचाए: एक्सपर्ट के मुताबिक, सहजन की पत्तियों में 40 से अधिक प्रकार के एंटीऑक्‍सीडेंट पाए जाते हैं. इसके अलावा, इन पत्तियों में एंटी-बैक्‍टीरियल और एंटी-इन्‍फलामेशन गुणों की भी मौजूदगी होती है, जो मानसून में पनपने वाले बैक्टीरिया और संक्रमण का खतरा कम करती हैं. इसलिए मानसून में सहजन की कोमल पत्तियों की सेवन किया जा सकता है.

घाव भरने में मदद करें: आयुर्वेदाचार्य के मुताबिक, सहजन की पत्तियां एंटी-बैक्टीरियल मानी जाती हैं. इसकी पत्तियां घाव को भरने के लिए बेहद असरदार होती हैं. इसके लिए आप इसकी कोमल पत्तियों के रस को घाव पर लगा सकते हैं. इससे ये घाव तो जल्दी भरेगा ही साथ ही घाव के निशान भी कम हो सकते हैं.

अस्थमा में असरदार: सहजन की पत्तियों का सेवन जरूर करना चाहिए, चाहें वह हरी पत्तियां हों या फिर सूखी. इन पत्तियां को चबाने से अस्थमा में होने वाली परेशानियां कम किया जा सकता है. ये पत्तियां ब्रोन्कियल संकुचन को कम करने में भी असरदार मानी जाती हैं. इन पत्तियों का नियमित सेवन करने से फेफड़ों में मौजूद गंदगी बाहर निकल जाती है, जिससे सांस लेने में होने वाली परेशानियां कम होती हैं.

ये भी पढ़ें: किडनी को हेल्दी रखने के लिए काफी हैं ये 5 सस्ती चीजें, डाइट में करें शामिल, गुर्दों की बीमारियां रहेंगी दूर

ब्लड प्रेशर कंट्रोल करे: सहजन की कोमल पत्तियों में हाई ब्लड प्रेशर से जुड़ी परेशानियों को कंट्रोल करने के चमत्कारी गुण पाए जाते हैं. बता दें कि, सहजन की पत्तियों में नियाज़िमिनिन और आइसोथियोसाइनेट जैसे यौगिक मौजूद होते हैं, जिससे धमनियों में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है. इनका नियमित सेवन से हाई ब्लड प्रेशर को रोकने में मदद मिलती है.

ये भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी में तनाव से हो सकती हैं 4 बड़ी परेशानियां, खुद को रखें कूल वरना भ्रूण की सेहत पर पड़ सकता गलत असर

आंखों को रखे हेल्दी: आंखों को हेल्दी रखने के लिए सहजन की पत्तियों का सेवन किया जा सकता है. बता दें कि, इन पत्तियों में पाया जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट गुण आंखों से जुड़ी परेशानियों को कम करती हैं. इन पत्तियों की मदद से रेटिनल वाहिकाओं के विस्तार में मदद मिलती है. साथ ही ये कोशिका झिल्ली को मोटा करने से लेकर रेटिनल को होने वाले नुकसान से रोकती हैं.

टैग: स्वास्थ्य लाभ, स्वास्थ्य समाचार, जीवन शैली

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *