पेरिस: फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन के आधिकारिक आवास एक पार्सल रिसीव किया गया, जिसमें कटी हुईं मानव उंगलियां थीं. सीएनएन ने पेरिस के प्रॉसिक्यूटर कार्यालय के हवाले से इसकी पुष्टि की है. इस मामले में पुलिस जांच शुरू कर दी गई है. पेरिस अभियोजक के कार्यालय ने सीएनएन को बताया, ‘उंगली का एक टुकड़ा, ऐसा लगता है कि यह एक उंगली का टिप है, एलिसी पैलेस को पार्सल किया गया था. यह भी कहा गया कि पुलिस ने सोमवार को ‘एक निर्वाचित नेता को धमकाने या डराने का अपराध’ करने के मामले में जांच शुरू कर दी है.’

फ्रांसीसी न्यूजवायर एएफपी का हवाला देते हुए, न्यूज वेबसाइट पोलिटिको ने बताया कि पैकेट में मिलीं उंगलियां पार्सल भेजने वाले की ही थीं, जो मनोरोग से पीड़ित है. राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन के लिए काम करने वाले कर्मचारियों ने सप्ताह की शुरुआत में इस भयानक घटना की सूचना दी थी. फ्रेंच प्रेसिडेंशियल रेजिडेंस एलिसी पैलेस ने अभी तक रिपोर्ट पर कोई टिप्पणी नहीं की है. एलिसी पैलेस पेरिस में फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन का आधिकारिक घर है, जो 2017 से यहां रह रहे हैं. यह घटना 17 वर्षीय नाहेल मेरजौक की ट्रैफिक पुलिस की गोलीबारी में हुई मौत के बाद फ्रांस में हिंसक विरोध प्रदर्शन के कुछ दिनों बाद हुई है.

इस घटना के बाद फ्रांस की राजधानी पेरिस समेत कई अन्य शहरों में उग्र प्रदर्शन हुए. प्रदर्शनकारियों ने आगजनी और तोड़फोड़ भी की. हफ्तों तक, प्रदर्शनकारी तख्तियां लिए रहे जिन पर लिखा था, ‘पुलिस ने मार डाला’. प्रदर्शनकारियों ने सैकड़ों सरकारी इमारतों को भी नुकसान पहुंचाया, जबकि दंगा पुलिस अधिकारियों की प्रदर्शनकारियों के साथ जमकर झड़प हुई. इस अशांति ने फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन को दुखी किया. उन्होंने अपने दूसरे कार्यकाल में विभाजन को पाटने और देश को एकजुट करने के प्रयास में मंत्रियों के साथ एक आपातकालीन बैठक की.

राष्ट्रपति मैक्रॉन ने उग्र प्रदर्शनों को कम करने में मदद करने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्मों का भी आह्वान किया. उन्होंने टिकटॉक और स्नैपचैट से ‘सबसे संवेदनशील सामग्री’ को वापस लेने और उन उपयोगकर्ताओं की पहचान करने के लिए कहा जो ‘अव्यवस्था पैदा करने या हिंसा को बढ़ावा देने के लिए सोशल नेटवर्क का इस्तेमाल करते हैं.’ फ्रांस में नोहेल की मौत के बाद भड़की हिंसा को काबू करने के लिए 40000 सुरक्षा बलों को तैनात करना पड़ा. झड़पों में 600 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हुए, जबकि 20000 से अधिक प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया.

(टैग अनुवाद करने के लिए)फ्रांस(टी)एलिसी पैलेस(टी)कटी हुई उंगलियां(टी)इमैनुएल मैक्रॉन(टी)फ्रांसीसी राष्ट्रपति महल

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *