Asia Cup को लेकर पाकिस्तान को झुकना ही पड़ा, साउथ अफ्रीका में हुआ फैसला, एक ही वेन्यू पर भारत-पाक के 3 मैच

नई दिल्ली. पाकिस्तान के खेल मंत्री एहसान मजारी बार-बार यह कर रहे थे कि यदि टीम इंडिया एशिया कप खेलने हमारे घर नहीं आती है, तो हम भी वर्ल्ड कप खेलने भारत नहीं जाएंगे. लेकिन साउथ अफ्रीका के डरबन में चल रही आईसीसी की बैठक से अलग बीसीसीआई सचिव जय शाह और पीसीबी के चेयरमैन जका अशरफ की मुलाकात हुई. इसमें एशिया कप को लेकर सहमति बन गई है. टूर्नामेंट पहले बनी सहमति के आधार पर यानी हाइब्रिड मॉडल पर ही खेला जाएगा. 4 मुकाबले पाकिस्तान में हो 9 मुकाबले श्रीलंका में होंगे. पाकिस्तान की मीडिया के अनुसार, जका अशरफ ने जय शाह को एशिया कप के दौरान पाकिस्तान आने का न्यौता दिया है.

हालांकि बीसीसीआई ने इस बात को साफ कर दिया है कि ना ही टीम इंडिया और ना ही उसका कोई पदाधिकारी पाकिस्तान जा रहा है. एशिया कप के मुकाबले 31 अगस्त से 17 सितंबर के बीच होने हैं. भारत और पाकिस्तान के लीग राउंड और सुपर-4 के मुकाबले दांबुला में होंगे. यदि दोनों ही टीमें फाइनल में पहुंचती हैं, तो यह मैच भी इसी वेन्यू पर खेला जाएगा. यानी एक ही मैदान पर भारत और पाकिस्तान के बीच 3 मुकाबले खेले जाएंगे. पहले मुकाबले कोलंबो में कराए जाने की बात थी, लेकिन बारिश के चलते आयोजकों को वेन्यू बदलने पर मजबूर होना पड़ा.

जांच दल आएगा भारत
पाकिस्तान के पीएम शहबाज शरीफ ने वर्ल्ड कप के लिए एक जांच दल बनाया है. वह भारत आकर टीम की सुरक्षा देखेगा. इसी के बाद टीम के वर्ल्ड कप में उतरने पर अंतिम फैसला होगा. वर्ल्ड कप के मुकाबले 5 अक्टूबर से 19 नवंबर के बीच खेले जाएंगे. पाकिस्तान को अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम सहित 5 वेन्यू पर वर्ल्ड कप के मुकाबले खेलने हैं. पाकिस्तान अहमदाबाद में भी मैच खेलने को लेकर आपत्ति जता चुका है. ऐसे में उसके कुछ वेन्यू में बदलाव हो सकता है. जैसा कि 2016 टी20 वर्ल्ड कप में भी हुआ था, तब धर्मशाला की जगह एक मैच को कोलकाता शिफ्ट किया गया था.

जल्द आ सकता है शेड्यूल
अब जबकि भारत और पाकिस्तान के बीच एशिया कप को लेकर सहमित बन गई है. ऐसे में जल्द इसका शेड्यूल जारी किया जा सकता है. दोनों टीमों के अलावा श्रीलंका, बांग्लादेश, अफगानिस्तान और नेपाल की टीमें टूर्नामेंट में उतर रही हैं. भारत और पाकिस्तान को एक ही ग्रुप में रखा गया है. पिछले साल यूएई में इसका आयोजन किया गया था और श्रीलंका की टीम चैंपियन बनी थी. श्रीलंका ने टी20 फॉर्मेट के आधार पर खेले गए एशिया कप के फाइनल में पाकिस्तान को मात दी थी. टीम इंडिया फाइनल में नहीं पहुंच सकी थी.

वेस्टइंडीज का खूंखार गेंदबाज बदला लेने को तैयार, वर्ल्ड कप में ले चुका है हैट्रिक, निशाने पर रोहित और कोहली

एशिया कप के इतिहास की बात करें, तो यह 1984 से खेला जा रहा है. भारतीय टीम इतिहास की सबसे सफल टीमों में से एक है. यह अब वनडे और टी20 दोनों फॉर्मेट के आधार पर खेला जाता है. टीम इंडिया ने 7 बार एशिया कप जीता है. इसमें 6 वनडे फॉर्मेट का जबकि एक टी20 फॉर्मेट का टाइटल शामिल है. ऐसे में रोहित शर्मा की कप्तानी में टीम फिर इतिहास दोहराना चाहेगी.

टैग: एशिया कप, भारत बनाम पाकिस्तान, पाकिस्तान, टीम इंडिया

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*