नई दिल्ली. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के कार्यवाहक अध्यक्ष जका अशरफ डरबन में होने वाली आईसीसी की बैठक में अपने देश के वनडे वर्ल्ड कप के मैच न्यूट्रल वेन्यू पर कराने की मांग रखेंगे. खेल मंत्री एहसान माजरी ने यह बात कही. पाकिस्तान कई बार वर्ल्ड कप के बायकॉट की बात भी कह चुका है, लेकिन 3 कारणों के चलते शायद ही वह ऐसा कदम उठा सके. भारत ने दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण संबंधों के कारण एशिया कप के अपने मैच पाकिस्तान में खेलने से इनकार कर दिया था. तभी से बीसीसीआई और पीसीबी के बीच तनातनी चल रही है.

एशिया कप को लेकर हालांकि एशियन क्रिकेट काउंसिल ने स्थिति साफ कर दी है. पिछले दिनों उसने  घोषणा कर दी थी कि यह टूर्नामेंट हाइब्रिड मॉडल के आधार पर खेली जाएगा. 4 मैच पाकिस्तान में जबकि 9 मैच श्रीलंका में खेले जाएंगे. एशिया कप 31 अगस्त से 17 सितंबर तक खेला जाएगा. हालांकि अब तक इसका शेड्यूल नहीं आया है. पीसीबी ने पिछले दिनों आईसीसी और बीसीसीआई को बताया कि वर्ल्ड कप में उसकी भागीदारी सरकार की मंजूरी पर निर्भर करेगी. लेकिन बीसीसीआई और आईसीसी से जुड़े सूत्र ने बताया कि पाकिस्तान वर्ल्ड कप में खेलने से इनकार नहीं कर सकता है. उसकी कई वजहें हैं.

चैंपियंस ट्रॉफी पर खतरा
वर्ल्ड कप की बात करें, तो यह आईसीसी का टूर्नामेंट का है. ऐसे में यदि पाकिस्तान की टीम टूर्नामेंट में उतरने से इनकार कर देती है, तो उससे चैंपियंस ट्रॉफी की मेजबानी छिन सकती है. 2025 में होने वाले आईसीसी टूर्नामेंट की मेजबानी उसे ही मिली है. लंबे समय से पाकिस्तान में बड़ा आयोजन नहीं हो रहा है. ऐसे में पीसीबी हर हाल में यह टूर्नामेंट घर में आयोजित करना चाहेगा.

283 करोड़ रुपये पर भी खतरा
आईसीसी हर क्रिकेट बोर्ड को फंड देता है. पाकिस्तान बहुत हद तक इस पर निर्भर करता है. अगले 4 साल की बात करें, तो उसे इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल से 283 करेाड़ रुपये मिलने हैं. यदि वह वर्ल्ड कप को लेकर जिद पर अड़ता है, तो उसे इस राशि से भी हाथ धोना पड़ सकता है. भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड को सबसे अधिक राशि मिलती है.

अन्य टीमों का साथ आना मुश्किल
श्रीलंकाई टीम पर हुए आतंकी हमले के बाद सालों तक पाकिस्तान में क्रिकेट नहीं हो सका. धीरे-धीरे विदेशी टीमों ने वहां खेलना शुरू किया. ऐसे में यदि वह वर्ल्ड कप को लेकर बड़ी बात करता है, तो बड़े देश उससे नाराज हो सकते हैं. पिछले दिनों एशिया कप पाकिस्तान में कराने को लेकर उसे श्रीलंका, अफगानिस्तान और बांग्लादेश तक का साथ नहीं मिला था.

एहसान माजरी ने इसके साथ ही दावा किया कि प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ द्वारा गठित की गई विशेष समिति के अन्य सदस्यों का भी मानना है कि भारत के पाकिस्तान का दौरा नहीं करने को लेकर कड़ा रुख अपनाया जाना चाहिए. उन्होंने कहा कि यदि भारत एशिया कप के लिए अपनी टीम पाकिस्तान नहीं भेज सकता तो मैं चाहता हूं कि वर्ल्ड कप के हमारे मैचों का आयोजन न्यूट्रल वेन्यू पर हो. अगर भारतीय बोर्ड के अनुसार उन्हें पाकिस्तान में सुरक्षा को लेकर परेशानी है, तो हम भी भारत में सुरक्षा स्थिति को लेकर सवाल उठा सकते हैं.

MI से खेलने के लिए पाकिस्तान के 2 खिलाड़ियों ने छोड़ा देश, एक वर्ल्ड कप तक में उतरा, अब टी20 पर नजर

आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप का शेड्यूल तक जारी कर चुका है. मुकाबले भारत में 5 अक्टूबर से 19 नवंबर तक खेले जाने हैं. 46 दिन तक चलने वाले टूर्नामेंट के लिए 10 वेन्यू शॉर्ट लिस्ट किए गए हैं. कुल 48 मुकाबले खेले जाएंगे. पाकिस्तान को 5 वेन्यू पर मुकाबले खेलने हैं. उसने कुछ वेन्यू को लेकर भी सवाल उठाए हैं. फाइनल मुकाबला अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला जाएगा.

टैग: भारत बनाम पाकिस्तान, पाकिस्तान, टीम इंडिया, वर्ल्ड कप 2023

(टैग्सटूट्रांसलेट)पाकिस्तान(टी)टीम इंडिया(टी)भारत बनाम पाकिस्तान(टी)इंड बनाम पाक(टी)बीसीसीआई बनाम पीसीबी(टी)आईसीसी विश्व कप 2023(टी)विश्व कप 2023(टी)बिलावल भुट्टो(टी)पाकिस्तान खेल मंत्री(टी)एहसान मजारी(टी)पाकिस्तान विश्व कप 2023 में भाग नहीं लेगा(टी)पाकिस्तान की टीम विश्वकप 2023 खेलने से इंकार नहीं कर सकती है छीनी जा सकती है चैंपियंस ट्रॉफी की मेजबानी(टी)पीएम शाहबाज शरीफ(टी)शाहबाज शरीफ(टी)विदेशी मंत्री बिलावल भुट्टो (टी)पीएम शाहबाज शरीफ ने इस (टी)आईसीसी (टी)बीसीसीआई बनाम पीसीबी (टी)भारत बनाम पाकिस्तान(टी)इंड बनाम पाक(टी)पाक बनाम भारत( के प्रमुख पाकिस्तान टीम बिलावल भुट्टो की भागीदारी के लिए समिति का गठन किया है। टी)क्रिकेट समाचार(टी)क्रिकेट समाचार हिंदी में(टी)हिंदी क्रिकेट समाचार(टी)पाकिस्तान(टी)टीम इंडिया(टी)भारत बनाम पाकिस्तान(टी)विश्व कप(टी)क्रिकेट न्यूज(टी)क्रिकेट न्यूज हिन्दी

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *