हाइलाइट्स

कपिल ने किरमानी के साथ 9वें विकेट के लिए जोड़े थे 126 रन
यह वर्ल्‍डकप में अब तक 9वें विकेट की सबसे बड़ी साझेदारी है

नई दिल्‍ली. वर्ल्‍डकप-1983 (World Cup-1983) में भारतीय टीम का चैंपियन बनना किसी चमत्‍कार से कम नहीं था. किसी ने भी कल्‍पना नहीं की थी कि 1975 और 1979 के वर्ल्‍डकप में फिसड्डी साबित हुई टीम इंडिया बड़ा धमाका करते हुए ट्रॉफी पर कब्‍जा जमा लेगी. भारत की इस जीत में महान हरफनमौला और टीम के कप्‍तान कपिल देव (Kapil dev)का अग्रणी योगदान रहा. कपिल ने टीम के खिलाड़ियों में यह विश्‍वास भरा कि किसी से कमतर नहीं हैं और किसी भी टीम को शिकस्‍त देने का माद्दा रखते हैं. अपने विजयी अभियान के दौरान जब भी टीम मुश्किल में फंसी, कपिल या किसी अन्‍य प्‍लेयर ने अपने प्रदर्शन को ऊंचाई दी और टीम को संकट से उबारा.इस वर्ल्‍डकप के दौरान कपिल देव की ओर से बनाया गया एक रिकॉर्ड 40 साल बाद भी नहीं टूट सका है.

हर कोई जानता है कि वर्ल्‍डकप-1983 में कपिल देव ने जिम्‍बाब्‍वे के खिलाफ (India vs Zimbabwe) मैच में नाबाद 175 रन की पारी खेली थी जो उस समय वनडे में किसी भी बैटर की सबसे बड़ी पारी का रिकॉर्ड था. इस पारी के दौरान कपिल ने सैयद किरमानी (Syed Kirmani)के साथ 9वें विकेट के लिए नाबाद 126 रनों की साझेदारी का रिकॉर्ड बनाया था, वर्ल्‍डकप में आज भी यह नौवें विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी है.

ICC वर्ल्ड कप 2023 को लेकर पाकिस्तान का बड़ा आरोप, कहा- भारत में रोजाना दंगे, हम खिलाड़ियों को कैसे…

18 जून 1983 को ट्रेंटब्रिज वेल्‍स में खेले गए इस मैच में भारतीय टीम ने 31 रन से जीत हासिल की थी. पहले बैटिंग करते हुए टीम इंडिया के पांच विकेट एक समय 17 रन पर गिर गए थे लेकिन कपिल ने पुछल्‍ले बल्‍लेबाजों के साथ लगातार एक के बाद एक पार्टनरशिप कर टीम को 60 ओवर्स में 9 विकेट खोकर 266 के स्‍कोर तक पहुंचा था. कपिल ने 138 गेंदों पर 16चौकों और छह छक्‍कों की मदद से नाबाद 175 और किरमानी ने 56 गेंदों पर दो चौकों की मदद से नाबाद 24 रन बनाए थे. जवाब में मदन लाल (3 विकेट) और रोजर बिन्‍नी (2 विकेट) की गेंदबाजी के आगे जिम्‍बाब्‍वे ने समर्पण कर दिया था और पूरी टीम 57 ओवर में 235 रनों पर ढेर हो गई थी. सेमीफाइनल की दावेदारी में बने रहने के लिए भारत को यह मैच जीतना जरूरी था.

वनडे इंटरनेशनल में करीब 27 साल बाद कपिल-किरमानी की साझेदारी का यह रिकॉर्ड टूट पाया था जब एंजलो मैथ्‍यूज और लसिथ मलिंगा की जोड़ी ने ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ वर्ष 2010 में मेलबर्न में 132 रनों की साझेदारी की थी.मैच में मैथ्‍यूज ने नाबाद 77 और मलिंगा ने 56 रन बनाए थे. क्रिकेट के महाकुंभ वर्ल्‍डकप में कपिल-किरमानी का 9वें विकेट की साझेदारी का रिकॉर्ड अभी भी बरकरार है.

टैग: क्रिकेट, भारत बनाम जिम्बाब्वे, कपिल देव, विश्व कप, विश्व कप 1983

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *