क्या आप भी पीते हैं बहुत ज्यादा ब्लैक या लेमन टी? हो जाएं सावधान! किडनी में भर सकता है पत्थर के टुकड़े, लिवर भी होगा डैमेज

हाइलाइट्स

अगर जरूरत से ज्यादा विटामिन सी लिया जाए तो शरीर में विटामिन सी टूटकर ऑक्सीलेट में बदल जाता है
ज्यादा चाय और विटामिन सी बेहद खतरनाक साबित हो सकता है.

काली चाय के दुष्प्रभाव: भारत में अधिकांश लोगों को हर दिन एक-दो कप चाय पीने की आदत होती है. अगर व्यक्ति हेल्दी है तो दिन में एक-दो कप चाय से कोई खास नुकसान नहीं होता है लेकिन अगर कोई व्यक्ति जरूरत से अधिक चाय पीने लगे तो परेशानी लाजिमी है. मुंबई में 42 साल के एक व्यक्ति को ज्यादा चाय पीने की इतनी गंदी आदत पड़ गई कि इससे उसकी किडनी ने काम करना बंद कर दिया और उसे अस्पताल में भर्ती होना पड़ा. दरअसल, यह आदमी हर रोज ग्रीन या लेमन टी पीता था और उसमे विटामिन सी मिला देता है. कोरोना के बाद विटामिन सी का चलन इस कदर बढ़ गया कि कुछ लोगों ने इसे अपने जीवन का हिस्सा बना लिया लेकिन चाय के साथ विटामिन सी का सेवन किडनी और लिवर को बुरी तरह प्रभावित कर सकता है और इससे कई अन्य बीमारियों का खतरा भी बढ़ा सकता है.

किडनी स्टोन का खतरा
टीओआई में छपी खबर के मुताबिक मुंबई में संदीप चौहान को पैर में सूजन होने लगी और भूख की कमी की वजह से उसे बार-बार उल्टी हो रही थी. जब उसकी जांच की गई तो डॉक्टर हैरान रह गए. मरीज में किडनी बहुत काम कर रही थी. कई जांच के बाद डॉक्टर इस नतीजे पर पहुंचे कि संदीप हर रोज कई कप चाय और विटामिन सी गटक जाते थे. मुंबई में केईएम अस्पताल की डीन डॉ. संगीता रावत ने बताया कि कोविड के समय ब्लैक टी और विटामिन सी लेने का चलन बढ़ा था लेकिन इसकी सबको जरूरत नहीं है. जिन लोगों को कुछ अन्य परेशानियां हैं, उनके लिए ज्यादा चाय और विटामिन सी बेहद खतरनाक साबित हो सकता है. संदीप एक एडवरटाइजिंग एजेंसी में ऑफिस ब्यॉय है.

वह हर रोज वेडिंग मशीन से कई कप ग्रीन या लेमन चाय पी जाता था. इस चाय में विटामिन सी भी मिला होता था. संदीप को पहले से हाइपरटेंशन भी था जिसका उसे पता भी नहीं था. जब वह अस्पताल आया तो उसका कीरेटीन लेवल 10 था जबकि नॉर्मल 1 से ज्यादा नहीं होना चाहिए. इतना ही जब किडनी का बायोप्सी किया गया तो उसमें ऑक्सीलेट की मात्रा बहुत ज्यादा पाई गई जो किडनी स्टोन का बहुत बड़ा कारण है.

विटामिन सी का ज्यादा सेवन नुकसानदेह
कीईएम अस्पताल के नेफ्रोलॉजी विभाग के प्रमुख डॉ. तुकाराम जमाले ने बताया कि मरीज को कई कप ब्लैक टी पीने की खतरनाक आदत थी. इससे ब्लैक टी और विटामिन सी के कारण उसके शरीर में ऑक्सीलेट की मात्रा बढ़ती चली गई जिसका उसे पता नहीं चला. विटामिन सी शरीर के लिए बेहद महत्वपूर्ण है. शरीर के विकास और आयरन के अवशोषण के लिए विटामिन सी की जरूरत होती है. हमें हर रोज 75 से 90 मिलीग्राम विटामिन सी की जरूरत होती है. ज्यादातर भोजन से यह प्राप्त हो जाता है. अगर कमी होती है तो डॉक्टर 1000 मिलीग्राम तक विटामिन सी सप्लीमेंट लेने की सलाह देते हैं.

ज्यादा चाय और विटामिन सी से कई बीमारियां
डॉक्टर अगर लिखें तो यह सेफ होता है लेकिन अगर जरूरत से ज्यादा विटामिन सी लिया जाए तो शरीर में विटामिन सी टूटकर ऑक्सीलेट में बदल जाता है जिससे कैल्शियम की मात्रा बढ़ जाती है और यह किडनी में स्टोन के रूप में सामने आता है. इतना ही नहीं, अगर विटामिन सी का ज्यादा सेवन किया जाए तो लिवर, गठिया और किडनी की बीमारी हो सकती है. ज्यादा विटामिन सी किडनी फंक्शन को प्रभावित करता है और इससे किडनी फेल्योर भी हो सकता है.

इसे भी पढ़ें-रात में सोने से पहले इन चीजों को खा लें, कई परेशानियों का अपने आप हो जाएगा अंत, नींद भी आएगी अच्छी

इसे भी पढ़ें-क्या आप दिन में भी लेते हैं झपकी? शरीर पर होंगे इतने तरह के असर, रिसर्च में सामने आई बड़ी बात

टैग: स्वास्थ्य, स्वास्थ्य सुझाव, जीवन शैली

(टैग्सटूट्रांसलेट)चाय(चाय)चाय स्वास्थ्य लाभचाय लाभचाय स्वास्थ्य जोखिमचाय लाभ(चाय नुकसान)स्वास्थ्य समाचारस्वास्थ्य युक्तियाँचाय स्वास्थ्य लाभ हमें एक दिन में कितनी चाय पीनी चाहिए

Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*