कालामाटा (यूनान): प्रवासियों को लेकर जा रही मछली पकड़ने वाली एक नौका यूनान के तट पर मंगलवार देर रात को पलटने के बाद डूब गई, जिससे कम से कम 79 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य लापता हैं. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि ये सभी प्रवासी यूरोप जाने की कोशिश कर रहे थे. तटरक्षक बल, नौसेना और विमानों ने रात भर व्यापक स्तर पर खोज एवं बचाव अभियान चलाया. अभी यह स्पष्ट नहीं है कि कितने यात्री लापता हैं.

तटरक्षक बल के प्रवक्ता निकोस अलेक्सियो ने सरकारी ‘ईआरटी टीवी’ को बताया कि यात्रियों की संख्या का सटीक अनुमान लगाना असंभव है. ऐसा प्रतीत होता है कि 80-100 फुट का जहाज लोगों के अचानक एक तरफ चले जाने के बाद पलट गया और कुछ देर बाद डूब गया. कालामाटा के दक्षिणी बंदरगाह शहर के डिप्टी मेयर आयोनिस ज़ाफ़िरोपोलोस ने बताया कि प्रारंभिक जानकारी से संकेत मिले हैं कि नौका में ‘500 से अधिक लोग’ सवार थे.

शादी की खुशी में मातम! 300 मेहमानों से भरी नाव बीच नदी में डूबी, दूर तक चीख-पुकार सुनने वाला कोई नहीं..100 लोगों की मौत

तटरक्षक के एक बयान के अनुसार, जब उनके जहाजों और वाणिज्यिक जहाजों ने नौका को बचाने का बार बार प्रयास किया तो उन्हें ऐसा करने से रोका गया. नौका पर सवार लोग लगातार यह कह रहे थे कि वे इटली जाना चाहते हैं. तटरक्षक अधिकारियों ने कहा कि मंगलवार देर रात करीब एक बजकर 40 मिनट पर नौका का इंजन खराब हो गया, जिसके बाद नौका डूबने लगी। बयान के अनुसार नौका 10 से 15 मिनट बाद डूब गई.

अधिकारियों ने बताया कि नौका यूनान के दक्षिणी पेलोपोनिसे प्रायद्वीप से करीब 75 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में अंतरराष्ट्रीय समुद्री क्षेत्र में डूबी. उसमें सवार 104 लोगों को बचाया गया है. बचाए गए लोगो में से 25 को ‘हाइपोथर्मिया’ की शिकायत या बुखार के होने की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया.

टैग: नाव दुर्घटना, यूनान

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *