हाइलाइट्स

2003 में अपने चार बच्‍चों को मारने के आरोप में काट रही थी सजा
प‍िछले साल मई 2022 में र‍िटायर्ड जज को सौंपा गया था जांच का ज‍िम्‍मा
जांच र‍िपोर्ट में कई बड़े खुलासों के बाद दोषी मह‍िला को क‍िया गया क्षमा

सिडनी: ऑस्ट्रेलिया (Australia) के स‍िडनी का बेहद ही हाई प्रोफाइल 20 साल की सजा काट रही ‘सबसे खराब महिला सीरियल किलर’ का मामला सामने आया है. दरअसल, एक ऑस्ट्रेलियाई मां को अपने 4 छोटे बच्‍चों की हत्‍या (Murder) करने के आरोप में सजा सुनाई गई थी. साल 2003 के इस मामले में कैथलीन फोल्बिग (Kathleen Folbigg) नामक मह‍िला को सजा सुनाई गई थी ज‍िसके बाद से वह 20 साल से जेल में बंद थी. लेक‍िन अब प‍िछले साल मई में शुरू हुई जांच एक साल तक चली ज‍िसके बाद अब उसे उच‍ित संदेह के चलते क्षमा कर द‍िया गया है.

अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि हाई-प्रोफाइल मामले की जांच के बाद अब इस मामले में बड़ा खुलासा हुआ और कई तथ्‍य सामने आए हैं. इसके आधार पर मह‍िला को क्षमा क‍िया गया है. बताते चलें क‍ि कैथलीन फोल्बिग को ‘ऑस्ट्रेलिया की सबसे खराब महिला सीरियल किलर‘ करार दिया गया था, जब उसको 2003 में कथ‍ित तौर पर अपने 3 बच्चों की हत्या और चौथे की हत्या करने का दोषी ठहराया गया था.

ये भी पढ़ें- गोद ली बेटी के साथ अनबन पर प‍िता ने खोया आपा, उठाया खौफनाक कदम, पेट्रोल छ‍िड़ककर लगाई आग, 5 द‍िन बाद तोड़ा दम

अभियोजकों ने तर्क दिया था बच्चों का दम घोट द‍िया होगा जिनकी मृत्यु नौ सप्ताह और तीन वर्ष की आयु के बीच हुई थी. लेकिन फोल्बिग ने दृढ़ता से प्रत्येक की मृत्यु को प्राकृतिक कारण बताया.

इस बीच देखा जाए तो साल 2021 में ऑस्ट्रेलिया और विदेशों के दर्जनों वैज्ञानिकों ने फोल्बिग की रिहाई के लिए एक याचिका पर हस्ताक्षर भी किए थे जिसमें कहा गया कि नए फोरेंसिक सबूतों से पता चलता है कि अस्पष्टीकृत मौतें वास्तव में दुर्लभ आनुवंशिक परिवर्तन या जन्मजात असामान्यताओं से जुड़ी थीं.

न्यू साउथ वेल्स के अटॉर्नी-जनरल माइकल डेली ने कहा कि मई 2022 में शुरू की गई एक साल की जांच ने अब दोषसिद्धि के आसपास ‘उचित संदेह’ जताया. इसके बाद फोल्बिग को क्षमा कर दिया गया. उन्होंने सोमवार को कहा क‍ि न्याय हित के चलते कैथलीन फोल्बिग को जल्द से जल्द हिरासत से रिहा किया जाना चाहिए. पुख्ता फोरेंसिक साक्ष्य के अभाव में, अभियोजकों ने तर्क दिया था कि यह बहुत कम संभावना थी कि 4 बच्चे अचानक मर जाएंगे. लेकिन इस मामले की जांच की अगुआई करने वाले र‍िटायर्ड जज टॉम बाथर्स्ट ने कहा कि बाद की जांच में ऐसी चिकित्सा स्थिति पाई गई जो 3 मौतों का कारण हो सकती है.

बाथर्स्ट ने कहा कि सारा और लौरा फोल्बिग के पास दुर्लभ अनुवांशिक म्‍यूटेशन था, जबकि पैट्रिक फोल्बिग की “अंतर्निहित न्यूरोजेनिक स्थिति” हो सकती है. इन सब कारकों को देखते हुए बाथर्स्ट ने पाया कि कालेब फोल्बिग की मृत्यु भी अब संदिग्ध नहीं थी. उन्होंने कहा कि वह यह स्वीकार करने में असमर्थ थे, ‘फोल्बिग अपने बच्चों की देखभाल करने वाली मां के अलावा कुछ भी थी.’ उन्‍होंने कहा क‍ि ऑस्ट्रेलियन एकेडमी ऑफ साइंस ने जांच को तेज धार देने में मदद की है. उन्‍होंने यह भी कहा क‍ि फोल्बिग के लिए न्याय देखकर ‘राहत’ मिली है.

टैग: ऑस्ट्रेलिया समाचार, अपराध समाचार, विश्व समाचार हिंदी में

Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *